आ गई 4 सीटों वाली नई इलेक्ट्रिक कार Helia, सिंगल चार्ज में चलती है 900 KM! जानिए क्या है इसमें खास

Helia को हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले वर्ल्ड सोलर चैलेंज में पेश किया गया था। इस कार के निर्माण में कार्बन फाइबर का प्रयोग किया गया है, जिससे इसका वजन काफी हल्का हो गया है।

Helia electric car range, electric car with 900 km range, Cambridge University electric car, most efficient electric car, helia electric car
कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी इको रेसिंग (CUER) सोसाइटी द्वारा बनाई गई इलेक्ट्रिक कार Helia। Photo- Dezeen

Helia Electric Car: दुनिया भर में इलेक्ट्रिक कारों को लेकर नित नए प्रयोग किए जा रहे हैं। ए​क तरफ दिग्गज वाहन निर्माता कंपनियां हाई रेंज वाली कारें पेश करने में लगे हैं वहीं दूसरी ओर कई स्टार्टअप भी इस दिशा में प्रयासरत हैं। हाल ही में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के 20 छात्रों की एक टीम ने ‘Helia’ नाम की एक इलेक्ट्रिक कार बनाई है, और ​दावा किया है कि ये कार सिंगल चार्ज में 900 किलोमीटर तक का सफर कर सकती है।

इस कार की सबसे ख़ास बात यह है की यह चार्ज होने के लिए महज एक इलेक्ट्रिक केतली के बराबर ही ऊर्जा का उपयोग करती है। कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी इको रेसिंग (CUER) सोसाइटी के छात्रों द्वारा बनाई गई इस कार ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होने वाले वर्ल्ड सोलर चैलेंज में भी हिस्सा लिया था।

दावा किया जा रहा है कि ये कार 2500 watts में 80 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ सकती है। इसके अलावा ये कार सिंगल चार्ज में 900 किलोमीटर तक आसानी से चल सकती है। 4 सीटों वाली ये कार दुनिया की मशहूर इलेक्ट्रिक कार Tesla Model 3 से कहीं ज्यादा किफायती है और यह उससे ज्यादा पावर आउटपुट देती है।

ये कार जितना पावर आउटपुट देती है उसके लिए Tesla Model 3 को 8 कैटेल, Volkswagen e-Golf को 9 और BMW i3 को 9.5 कैटेल की जरूरत होगी। Helia के बॉडी पैनल और चेसिस को कार्बन फाइबर से बनाया गया है, जिससे इसका वजन महज 550 किलोग्राम का है। हल्के वजन के चलते ये कार कम उर्जा में लंबी दूरी तय करती है। इसके अलावा इस कार को इलेक्ट्रिक चार्जर के साथ ही कार के छत पर लगे सोलर पैनल से भी चार्ज किया जा सकता है।

Helia ने ब्रिजस्टोन वर्ल्ड सोलर चैलेंज में भाग लिया था। सौर ऊर्जा से चलने वाली कारों की ये मशहूर रेस है, इसमें कारों को 3,000 किलोमीटर तक चलना होता है। वर्ल्ड सोलर चैलेंज ऑस्ट्रेलिया, हर दो साल में आयोजित किया जाता है। पिछली बार इसी सेगमेंट की क्रूजर कार ‘Stella’ ने ये खिताब जीता था, जो दुनिया की पहली सोलर चार्जड फैमिली कार भी है।

अपडेट