ताज़ा खबर
 

प्रधानमंत्री मोदी ने बताई अपने अधिकारियों की सैलरी, जानिए किसे क्या मिलता है

सबसे ज्यादा सैलरी प्रधानमंत्री के सचिव भास्कर कुल्बे की है। उनकी सैलरी 2.01 लाख रुपए प्रति माह है

Pm modi, pmo officials salaries, pm salaryप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री के सचिव भास्कर कुल्बे (बाएं), नेशनल सिक्यूरिटी एडवाइजर अजीत डोबाल (दाएं)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ऑफिस यानी प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) में काम करने वाले अधिकारियों की सैलरी के बारे में बताया है। पीएम ने इसमें अपने लिए काम करने वाले सभी अधिकारियों की सैलरी बताई है। दरअसल, पीएम को यह बताने की जरूरत उस आरटीआई की वजह से पड़ी जिसमें किसी ने यह सब जानना चाहा था। प्रधानमंत्री ने 1 जून को यह जानकारी साक्षा की थी। इसमें बताया गया है कि सबसे ज्यादा सैलरी प्रधानमंत्री के सचिव भास्कर कुल्बे की है। उनकी सैलरी 2.01 लाख रुपए प्रति माह है। भास्कर 1983 बैच के आईएस अधिकारी हैं। यहां यह भी हो सकता है कि उनकी सैलरी और ज्यादा बढ़ गई हो क्योंकि पहले वह एडिशनल सेक्रेटरी थे और पिछले हफ्ते ही उन्हें सेक्रेटरी बनाया गया है। और ये आकंड़े तब के हैं जब वह एडिशनल सेक्रेटरी हुआ करते थे।

भास्कर की सैलरी के साथ ही प्रंसिपल सेक्रेटरी निपेंद्र मिश्रा, एडिशनल प्रंसिपल सेक्रेटरी पीके मिश्रा और नेशनल सिक्यूरिटी एडवाइजर अजीत डोबाल की सैलरी भी बताई गई है। इन तीनों को बराबर पैसा मिलता है। इन्हें 1,62,500 रुपए महीना दिया जाता है। इसके अलावा इन लोगों को पेंशन भी मिलती है क्योंकि तीनों रिटायर्ड सिविल सर्वेंट हैं। पीएमओ के पब्लिक रिलेशन ऑफिसर जेएम ठक्कर को 99434 रुपए प्रति महीना और पेंशन मिलती है। वहीं पीआईबी के इंफोर्मेशन ऑफिसर शरत चंद्र को 1.26 लाख रुपए मिलते हैं।

पीएम मोदी से पहले प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी अपने लिए काम करने वाले लोगों की सैलरी बताई थी। उस वक्त दी जाने वाली सबसे ऊंची सैलरी 1.61 लाख रुपए थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अब रिपोर्ट कार्ड में Very Good मिलने पर ही हो सकेगा सरकारी बाबुओं का इन्क्रीमेंट, प्रमोशन
2 ईपीएफ मुद्दे पर फंसी सरकार
3 ईपीएफ कर प्रस्ताव पर विचार होगा: श्रम मंत्री दत्तात्रेय
यह पढ़ा क्या?
X