ताज़ा खबर
 

Budget 2019: वित्त मंत्री ने कहा- हमने कमरतोड़ महंगाई की कमर तोड़ दी, पीएम खुश होकर ठोकने लगे मेज

Budget 2019 Highlights in Hindi: पीयूष गोयल ने बजट भाषण में कहा कि मोदी सरकार में महंगाई अब तक के सबसे निचले स्तर पर है। दिसंबर 2018 में महंगाई दर 2.19 फीसदी रह गई। गोयल ने कहा कि महंगाई को काबू में कर सरकार ने लोगों का 40% खर्च बचाया है।

Budget 2019-20 India Highlights: अंतरिम बजट पेश करते अंतरिम वित्त मंत्री पीयूष गोयल। (ANI PHOTO)

Union Budget 2019-20 India: प्रभारी केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने अपना पहला बजट भाषण पढ़ते हुए शुक्रवार (1 फरवरी) को लोकसभा में कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में केंद्र सरकार ने लोगों की सोच बदलने का अथक प्रयास किया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में देश का आत्मविश्वास बढ़ा है। उन्होंने अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा कि हमारी सरकार ने महंगाई पर भी लगाम लगाई है। इससे आमजनों को राहत महसूस हुई है। गोयल ने कहा, “हमने कमरतोड़ महंगाई की कमर तोड़ दी।” गोयल के इस बयान पर बगल में बैठे प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी खुश हो उठे और उन्होंने मेज थपथपाकर इसका स्वागत किया।

पीयूष गोयल ने बजट भाषण में कहा कि मोदी सरकार में महंगाई अब तक के सबसे निचले स्तर पर है। दिसंबर 2018 में महंगाई दर 2.19 फीसदी रह गई। गोयल ने कहा कि महंगाई को काबू में कर सरकार ने लोगों का 40% खर्च बचाया है। उन्होंने कहा कि पांच साल में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) में अभूतपूर्व बढ़ोत्तरी हुई है। उन्होंने कहा कि देश में पिछले पांच साल में 239 अरब डॉलर एफडीआई आया है।

बजट 2019 LIVE UPDATES

प्रभारी वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से बढ़ रही अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में भारत में निवेश बढ़ा है। उन्होंने कहा कि बड़े कारोबारियों पर भी कर्ज वापसी का दबाव बढ़ा है। गोयल ने कहा, “हमने भ्रष्टाचारमुक्त सरकार चलाई।” उन्होंने दावा किया कि 1 करोड़ 53 लाख घर हमने बनाए, जो पिछली सरकार से पांच गुना है। सौभाग्य योजना से हमने हर घर को मुफ्त बिजली उपलब्ध कराया। गोयल ने कहा, “हमने 143 करोड़ एलईडी बल्ब उपलब्ध कराए हैं।”

उधर, कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने आरोप लगाया है, “सुबह से ही सरकार के सूत्र बजट के प्वाइंटर मीडिया हाउसों को भेज रहे हैं। अगर यही प्वाइंटर वित्त मंत्री के बजट भाषण में सुनाई देते हैं, तो यह लीक कहलाएगा। यह गोपनीयता के उल्लंघन का एक गंभीर मुद्दा होगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App