ताज़ा खबर
 

Budget 2019: इन कर्मचारियों को भी मिलेगी पेंशन, जानें सरकार ने क्या दी सौगात

Budget 2019 Highlights in Hindi: वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने असंगठित क्षेत्र के र्किमयों को 60 वर्ष की आयु के बाद 3000 रुपए की मासिक पेंशन मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन (पीएमएसवाईएम)योजना शुरू करने की शुक्रवार को घोषणा की।

Author February 1, 2019 3:43 PM
वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने असंगठित क्षेत्र के र्किमयों को 60 वर्ष की आयु के बाद 3000 रुपए की मासिक पेंशन मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन (पीएमएसवाईएम)योजना शुरू करने की शुक्रवार को घोषणा की।

Budget 2019 Highlights in Hindi, Union Aam Budget 2019-20 Highlights: वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने असंगठित क्षेत्र के र्किमयों को 60 वर्ष की आयु के बाद 3000 रुपए की मासिक पेंशन मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन (पीएमएसवाईएम)योजना शुरू करने की शुक्रवार को घोषणा की। योजना के तहत सरकार से साथ साथ र्किमयों से 100 रुपए प्रति माह का योगदान लिया जाएगा। गोयल ने असंगठित क्षेत्र के र्किमयों के लिए पेंशन योजना के अलावा पांच साल से अधिक सेवा मुहैया कराने वाले र्किमयों के लिए कर रहित ग्रेच्युटी को मौजूदा 10 लाख रुपए से बढ़ाकर 20 लाख रुपए करने की घोषणा की।

गोयल ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा ‘‘हम आज प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की घोषणा कर रहे हैं। इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्र के र्किमयों के लिए 100 रुपए प्रति माह के योगदान पर 60 वर्ष की आयु के बाद 3000 रुपए मासिक पेंशन मुहैया कराई जाएगी।’’ मंत्री ने सदन को सूचित किया कि योजना के तहत लाभ उठाने वाले असंगठित क्षेत्र के हर कर्मी के लिए सरकार भी 100 रुपए का योगदान मुहैया कराएगी जिससे आगामी पांच साल में 10 करोड़ र्किमयों को लाभ मिलने की उम्मीद है।

उन्होंने कहा, ‘‘इस योजना से असंगठित क्षेत्र में 10 करोड़ र्किमयों को लाभ होगा। यह योजना आगामी पांच साल में असंगठित क्षेत्र के लिए विश्व की सबसे बड़ी पेंशन योजना बन सकती है।’’ गोयल ने कहा कि असंगठित क्षेत्र में करीब 42 करोड़ कर्मी देश की अर्थव्यवस्था के विकास में योगदान दे रहे हैं।


मंत्री ने लोकसभा को सूचित किया कि सरकार बजट में इस योजना के लिए शुरुआत में 500 करोड़ रुपए मुहैया करा रही है। इस योजना के तहत र्किमयों को 100 रुपए प्रति माह का योगदान देना होगा और सरकार भी इतनी ही राशि का योगदान देगी। इस योजना में आॅटोरिक्शा चालक जैसे असंगठित क्षेत्र के उन सभी र्किमयों को लाभ होगा जिनकी आय 15,000 रुपए प्रति माह तक है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App