चार साल में 72% बढ़ गई ब्रांड धोनी की वैल्यू, कार्स24 से लेकर होमलेन तक में है निवेश

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायर होने के बाद भी ब्रांड धोनी की वैल्यू बढ़ी है। पिछले चार साल में धोनी के साथ जुड़ने वाले ब्रांडों की संख्या के साथ ब्रांड वैल्यू में 72 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

MS Dhoni Brand Value
रिटायरमेंट के बाद भी धोनी की ब्रांड वैल्यू लगातार बढ़ी है। (Source: 7.life)

महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं, लेकिन उनके ब्रांड वैल्यू पर इसका कोई असर नहीं पड़ा है। वह न सिर्फ अभी भी कई कंपनियों के प्रोडक्ट का विज्ञापन कर रहे हैं, बल्कि उनके पास कई स्टार्टअप कंपनियों में महत्वपूर्ण निवेश भी है। पिछले चार साल में धोनी की ब्रांड वैल्यू (Brand Value) 72 प्रतिशत बढ़ी है। इसके अलावा धोनी ने सेकेंड हैंड कार (Second Hand Car) बेचने वाली कंपनी कार्स24 (Cars24) से लेकर इंटीरियर डेकोरेशन कंपनी होमलेन (Homelane) तक में महत्वपूर्ण निवेश किया है।

रिटायरमेंट के बाद भी बढ़ी धोनी की ब्रांड वैल्यू

महेंद्र सिंह धोनी के एंडोर्समेंट पोर्टफोलियो में 2017 में कुल 14 ब्रांड थे और पूर्व कप्तान की ब्रांड वैल्यू 21.1 मिलियन डॉलर थी। साल-दर-साल धोनी के साथ जुड़ने वाले ब्रांड की संख्या बढ़ती गई और इसके साथ ही उनकी ब्रांड वैल्यू भी अधिक होती गई। 2018 में धोनी 19 ब्रांड का विज्ञापन कर रहे थे, जिनकी ब्रांड वैल्यू 26.9 मिलियन डॉलर थी। 2019 में धोनी 41.2 मिलियन डॉलर की ब्रांड वैल्यू के साथ 30 ब्रांड का एंडोर्समेंट कर रहे थे। 2020 में भी धोनी 30 ब्रांड के साथ जुड़ हुए थे। हालांकि इस साल धोनी की ब्रांड वैल्यू कुछ कम होकर 36.3 मिलियन डॉलर पर आ गई। इस तरह देखें तो 2017 से 2020 के दौरान धोनी की ब्रांड वैल्यू 72 प्रतिशत बढ़ी है।

Homelane में धोनी ने इसी साल किया है निवेश

पूर्व भारतीय कप्तान के पोर्टफोलियो में सबसे नया नाम है होमलेन। होमलेन इंटीरियर डेकोरेशन से जुड़े उत्पाद बनाने वाली कंपनी है। कंपनी ने दो महीने पहले अगस्त में बताया था कि उसने धोनी के साथ तीन साल का कांट्रैक्ट किया है। इस कांट्रैक्ट के तहत धोनी न सिर्फ होमलेन के ब्रांड एंबैसडर बने हैं, बल्कि उन्हें कंपनी का इक्विटी पार्टनर भी बनाया गया है। हालांकि कंपनी ने यह नहीं बताया है कि धोनी के पास कितने प्रतिशत इक्विटी हैं।

फिनटेक स्टार्टअप Khatabook में भी हिस्सेदारी

इसी कड़ी में एक नाम आता है तेजी से बढ़ रही फिनटेक कंपनी खाताबुक का। धोनी खाताबुक के साथ ब्रांड एंबैसडर के तौर पर पिछले साल मार्च में जुड़े थे। कंपनी ने मार्च 2020 में एक बयान में बताया था कि धोनी उसके ब्रांड एंबैसडर होंगे। इसके साथ ही कंपनी ने यह भी बताया था कि धोनी महत्वपूर्ण निवेश भी करने वाले हैं।

धोनी के इंवेस्टमेंट पोर्टफोलियो की खास बात है कि वह क्रिकेट की तरह यहां भी नए खिलाड़ियों पर भरोसा दिखाते हैं। उनके पोर्टफोलियो के सारे नाम स्टार्टअप हैं और सबने बिजनेस के परंपरागत मॉडल को चैलेंज किया है।

Second Hand Car कंपनी में भी धोनी का निवेश

अब यूज्ड कार (Used Car) का कारोबार करने वाली कंपनी कार्स24 (Cars24) को ही ले लीजिए। कार्स24 ने सेकेंड हैंड कार के बाजार को नया औपचारिक रूप दिया है। आज के समय में यह भारत में यूज्ड कार सेगमेंट में महत्वपूर्ण नाम है। धोनी अगस्त 2019 में इसके ब्रांड एंबैसडर बने। इसके साथ ही उन्होंने कार्स24 में पैसे भी लगाए। धोनी के पास कार्स24 में कितनी हिस्सेदारी है, इसके बारे में आधिकारिक तौर पर कुछ कहा नहीं गया है। उन्होंने सीरिज डी राउंड फंडिंग के तहत कार्स24 में निवेश किया।

पोर्टफोलियो में दिखता है धोनी का स्पोर्ट्समैनशिप

खिलाड़ियों को कौशल निखारने में मदद करने वाली टेक कंपनी रन एडम (Run Adam) भी धोनी के इंवेस्टमेंट पोर्टफोलियो में शामिल है। धोनी ने रन एडम में अगस्त 2018 में निवेश किया था। इस कंपनी में धोनी के पास 25 प्रतिशत हिस्सेदारी है। धोनी इस कंपनी के निवेशक के साथ-साथ मेंटर और ब्रांड एंबैसडर भी हैं।

धोनी के प्रशंसक सात यानी सेवेन नंबर को खूब अच्छे से जानते हैं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में धोनी का जर्सी नंबर सात रहा है। उन्होंने इस जर्सी के साथ अपनी यात्रा को क्रिकेट के मैदान से बाहर भी बढ़ाते हुए सेवेन (7) नाम से एक फैशन एंड लाइफस्टाइल ब्रांड की शुरुआत की है। धोनी के पास कंपनी के फुटवियर ब्रांड मास्टरस्ट्रोक की पूरी हिस्सेदारी है। शेष हिस्सेदारी आरएस सेवेन लाइफस्टाइल कंपनी के पास है। धोनी सेवेन ब्रांड के ग्लोबल ब्रांड एंबैसडर भी हैं।

मुंबई के उद्यमी मोहित भागचंदानी ने धोनी के सेवेन जर्सी की लोकप्रियता को भुनाने के लिए फुड एंड बेवरेजेज स्टार्टअप 7इंकब्र्यूज (7Ink Brews) की शुरुआत की थी। धोनी के पास इस कंपनी की भी हिस्सेदारी है। कंपनी अभी चॉकलेट से लेकर कई प्रकार के ड्रिंक बनाती है। कंपनी ने धोनी के फेमस हेलीकॉप्टर शॉट के नाम पर कॉप्टर7 चॉकलेट (Copter7 Chocklate) ब्रांड की भी पेशकश की है।

इसे भी पढ़ें: सेकेंड हैंड कार के लिए यह बैंक दे रहा है सबसे सस्ता लोन, जानिए अन्य बैंकों के इंटरेस्ट रेट

फुटबॉल, हॉकी और रेसिंग टीम के भी मालिक हैं धोनी

धोनी के पोर्टफोलियो के शुरुआत नामों में से एक है स्पोर्ट्सफिट प्राइवेट लिमिटेड (Sports Fit Pvt Ltd)। इस कंपनी के जरिए धोनी के पास देश भर में 200 से अधिक जिम हैं। धोनी इंडियन सुपर लीग की फुटबॉल टीम चेन्नइयन एफसी (Chennaiyin FC) के भी संयुक्त मालिक हैं। इसमें अभिषेक बच्चन (Abhishek Bachchan) धोनी के पार्टनर हैं। हॉकी इंडिया लीग में खेलने वाली टीम रांची रेज में भी धोनी का महत्वपूर्ण निवेश है। धोनी का खेल प्रेम यहीं तक सीमित नहीं है। दक्षिण भारत के एक्टर अक्किनेनी नागार्जुन (Akkineni Nagarjuna) के साथ मिलकर धोनी माही रेसिंग टीम इंडिया (Mahi Racing Team India) भी चलाते हैं।

होटल और ऑर्गेनिक फॉर्मिंग में भी माही की दिलचस्पी

धोनी के अन्य महत्वपूर्ण निवेश में माही होटल (Mahi Hotel) और ऑर्गेनिक फॉर्मिंग (Organic Farming) भी शामिल है। अभी धोनी के पास एक ही होटल है, जो रांची में है। रांची में ही उन्होंने 43 एकड़ का फॉर्महाउस बनवाया है, जहां वह ऑर्गेनिक फॉर्मिंग करते हैं।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट