ताज़ा खबर
 

बीपीओ कंपनी टेलीपरफॉर्मेंस से हटाए गए 3,000 कर्मचारी, 3 महीने में IT सेक्टर में जा सकती हैं 1.5 लाख नौकरियां

कंपनी की ओर से कर्मचारियों को भेजे गए ईमेल में कहा गया है कि कोरोना के संकट के चलते हमारे क्लाइंट्स पर बड़ा असर पड़ा है और उसके चलते हम भी प्रभावित हुए हैं।

आईटी सेक्टर में जा सकती हैं 1.5 लाख नौकरियां

फ्रांस की बीपीओ कंपनी ने भारत में 3,000 कर्मचारियों की छंटनी कर दी है। फ्रांसीसी कंपनी टेलीपरफॉर्मेंस के भारत में कुल 13,000 कर्मचारी हैं, जिनमें से 3,000 को हटाने का फैसला लिया गया है। कंपनी की ओर से कर्मचारियों को भेजे गए ईमेल में कहा गया है कि कोरोना के संकट के चलते हमारे क्लाइंट्स पर बड़ा असर पड़ा है और उसके चलते हम भी प्रभावित हुए हैं। कंपनी ने कहा कि कई क्लाइंट्स ने हमसे काम वापस ले लिया है और मांग में कमी आई है। इसके चलते कंपनी को स्टाफ घटाने का फैसला करना पड़ा रहा है।

हालांकि यह संकट यहीं थमने वाला नहीं है और आईटी-बीपीओ इंडस्ट्री के जानकारों के मुताबिक 1.5 लाख लोगों की नौकरियां इस सेक्टर में जा सकती हैं। अगले तीन से 6 महीनों में यह संकट देखने को मिल सकता है। आईटी इंडस्ट्री में छंटनी का यह दौर ज्यादातर छोटी कंपनियों में ही आ सकता है। टेलीपरफॉर्मेंस कंपनी ने कर्मचारियों को भेजे गए छंटनी के ईमेल में कहा कि क्लाइंट्स की ओर से काम वापस लिए जाने के बाद हमारे रेवेन्यू में बड़ी गिरावट आई है और इसलिए हम लगातार पहले की तरह खर्चों को जारी नहीं रख सकते।

कंपनी ने कहा कि इन हालातों के चलते हमें छंटनी का फैसला लेना पड़ रहा है। छंटनी में शामिल 3,000 कर्मचारियों को 30 दिन की सैलरी दी जाएगी। टेलीपरफॉर्मेंस पहली ऐसी आईटी कंपनी नहीं है, जिसने इस तरह से कर्मचारियों को टर्मिनेट करने का फैसला लिया है। इससे पहले मार्च में फेयरपोर्टल कंपनी ने 300 लोगों की छंटनी की थी।

एयरलाइन और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर के क्लाइंट्स के लिए काम करने वाली कंपनी फेयरपोर्टल ने भी लागत में कमी का हवाला देते हुए कर्मचारियों की छंटनी की थी। आईटी सेक्टर से करीब 45 से 50 लाख लोग जुड़े हैं। छोटी आईटी कंपनियों से 10 से 12 लाख लोग जुड़े हैं। वहीं टॉप 5 आईटी कंपनियों से करीब 10 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ है।

क्‍लिक करें Corona Virus, COVID-19 और Lockdown से जुड़ी खबरों के लिए और जानें लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइंस

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मजदूरों को गुजारे के लिए जरूरी है पैसा, रघुराम राजन बोले- सिर्फ अनाज देने से नहीं मिलेगी मदद, पैकेज से नहीं होगा फायदा
2 कोरोना काल में 200 रुपए किलो तक पहुंची दाल की कीमत, आरबीआई गवर्नर बोले- चिंंता की बात, मुद्रास्फीति की दर 8.6 फीसदी
3 लोन की किस्तें चुकाने पर अब अगस्त तक के लिए मिली छूट, रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में भी की 40 बेसिस पॉइंट्स की कटौती