ताज़ा खबर
 

ट्विटर पर फिर ट्रेंड #BoycottTanishq, दिवाली पर पटाखों से बचने की अपील पर ट्रोल हुआ टाटा का ज्वैलरी ब्रांड

कर्नाटक बीजेपी के नेता और हाल ही में राष्ट्रीय महासचिव बने सीटी रवि ने भी इस ऐड के खिलाफ ट्वीट किया है। #BoycottTanishq के साथ ट्वीट करते हुए सीटी रवि ने लिखा, 'आखिर किसी को हिंदुओं को सलाह क्यों देनी चाहिए कि हम अपने त्योहार कैसे मनाएं?'

ekatvamदिवाली को लेकर Tanishq के ऐड पर विवाद

टाटा ग्रुप का ज्वैलरी ब्रांड Tanishq एक बार फिर से सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स के निशाने पर है। दिवाली के ऐड में बम-पटाखों से बचने की सलाह देने के चलते ट्विटर यूजर्स के एक वर्ग ने तनिष्क को निशाने पर लिया है और #BoycottTanishq फिर से ट्रेंड में है। कुछ दिनों पहले ही ‘एकत्वम’ नाम के ऐड में मुस्लिम परिवार में हिंदू बहू की गोदभराई की रस्म दिखाए जाने पर तनिष्क के खिलाफ #BoycottTanishq ट्रेंड हुआ था। यहां तक कि काफी विवाद के बाद तनिष्क ने अपने इस ऐड को माफी के साथ वापस ले लिया था और कहा था कि उनका इस ऐड के जरिए ऐसा कोई संदेश देने का इरादा नहीं था, जैसा संदेश पहुंचा।

अब दिवाली के इस नए ऐड ने एक बार फिर से टाटा समूह के इस मशहूर ब्रांड को चर्चा में ला दिया है। इस नए ऐड में चर्चित अभिनेत्री नीना गुप्ता को भी दिखाया गया है। इस ऐड में नीना गुप्ता समेत सभी अभिनेत्रियां कहती हैं कि दिवाली पर मिठाई खाएंगी और दीये जलाएंगी। इनमें से ही एक सयानी गुप्ता ऐड में कहती हैं, ‘लंबे समय के बाद मैं अपनी मां से मुलाकात की उम्मीद कर रही हूं। निश्चित तौर पर कोई पटाखे नहीं जलाए जाएंगे। किसी को भी ऐसा नहीं करना चाहिए। लेकिन दिवाली पर खूब दीये जलाए जाने चाहिए और खूब पॉजिटिविटी होनी चाहिए।’ उनकी इस टिप्पणी के चलते ही तनिष्क के नए विज्ञापन पर कंपनी ट्रोल किया जा रहा है।

कर्नाटक बीजेपी के नेता और हाल ही में राष्ट्रीय महासचिव बने सीटी रवि ने भी इस ऐड के खिलाफ ट्वीट किया है। #BoycottTanishq के साथ ट्वीट करते हुए सीटी रवि ने लिखा, ‘आखिर किसी को हिंदुओं को सलाह क्यों देनी चाहिए कि हम अपने त्योहार कैसे मनाएं? कंपनियों को अपने प्रोडक्ट्स बेचने पर ध्यान देना चाहिए। पटाखों पर लेक्चर नहीं देना चाहिए। हम दीये जलाएंगे, मिठाई बांटेंगे और ग्रीन पटाखे जलाएंगे। हमें जॉइन करें और एकत्वम को समझें।’ सीटी रवि ने अपनी टिप्पणी में एकत्वम शब्द का इस्तेमाल कर एक तरह से तनिष्क के पुराने विज्ञापन पर हमला बोला है।

उनके अलावा भी तमाम ट्विटर यूजर्स ने तनिष्क के खिलाफ ट्वीट किया है। कुछ यूजर्स ने कहा है कि त्योहारों को सोशल अवेयरनेस कैंपेन के तौर पर इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। हालांकि ऐसे भी तमाम ट्विटर यूजर्स हैं, जिन्होंने ऐड का समर्थन करते हुए कहा है कि ग्रीन पटाखे भी 100 फीसदी प्रदूषण मुक्त नहीं होते।

दिल्ली-एनसीआर में पटाखों पर बैन: इस बीच नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने 30 नवंबर तक दिल्ली समेत एनसीआर के सभी इलाकों में पटाखों की सेल और उन्हें जलाने पर रोक लगा दी है। हालांकि हरियाणा समेत कई राज्यों में ऐसा कोई प्रतिबंध लागू नहीं किया गया है। एनजीटी का यह आदेश 4 राज्यों के 2 दर्जन से ज्यादा जिलों पर लागू होगा, जो एनसीआर के दायरे में आते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अब नए साल से Fastag के बिना हाईवे पर नहीं चला पाएंगे कार, जानें- कैसे आप आसानी से कर सकते हैं हासिल
2 पारिवारिक झगड़े में कूदे ललित मोदी के बेटे रुचिर, दादी बीना मोदी पर लगाए आरोप, जानें- करते हैं क्या काम
3 नए श्रम कानून के तहत मजूदरों को मिलेगी यह बड़ी सुविधा, साल के शुरुआती तीन महीनों में मिलेगा लाभ
यह पढ़ा क्या?
X