ताज़ा खबर
 

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से जनता परेशान, मोदी मौन: कमलनाथ

धन की कीमतों में लगातार वृद्धि के विरोध में कांग्रेस के ‘भारत बंद’ के एक दिन पहले पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भाजपानीत केन्द्र सरकार के राज में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से जनता परेशान हो गई है।

Author September 10, 2018 2:14 PM
पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने से जनता परेशान

धन की कीमतों में लगातार वृद्धि के विरोध में कांग्रेस के ‘भारत बंद’ के एक दिन पहले पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भाजपानीत केन्द्र सरकार के राज में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से जनता परेशान हो गई है। वहीं, मध्यप्रदेश पेट्रोल पंप ओनर्स एसोशियेशन ने सोमवार को राज्य में पेट्रोल पंपों को खुला रखने का निर्णय लिया है।
कमलनाथ ने यहां प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में मीडिया को बताया, ‘‘सोोमवार पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से जनता परेशान हो गई है।’’ उन्होंने कहा कि इस मामले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक सब मौन हैं।

उन्होंने कहा कि जब करीब साढ़े चार साल पहले तत्कालीन यूपीए की नेतृत्व वाली कांग्रेस के राज में पेट्रोल 55 रुपये प्रति लीटर था, तब ये ख़ूब चिल्लाते थे और कहते थे कि बहुत महंगा हो गया है। आज पेट्रोल के दाम 86 रुपये प्रति लीटर हो गया है, फिर भी ये मौन हैं। कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस ने इसको लेकर 10 सितंबर को भारत बंद का अव्हान किया है। उसी के तहत हम कल मध्यप्रदेश बंद कराएँगे। हालांकि, मध्यप्रदेश पेट्रोल पंप ओनर्स एसोशियेशन के अध्यक्ष अजय सिंह ने बताया, ‘‘हम सोमवार को प्रदेश में पेट्रोल पंपों को खुला रखेंगे और सामान्य दिन की तरह काम करेंगे।

तत्कालीन कांग्रेस राज में साइकिल लेकर प्रदर्शन करने वालों पर ताना मारते हुए उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा नेताओं की साइकिलें भी गायब हो चुकी है। धीरे-धीरे ये ख़ुद भी गायब हो जाएँगे।’’ ईंधन के बढ़े दामों के लिए भाजपा द्वारा कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराने पर कमलनाथ बोले, ‘‘बरसात नहीं हो तो भाजपा कांग्रेस को जÞम्मिेदार ठहराती है। बाढ़ आये तो कांग्रेस जÞम्मिेदार। अरे हर चीज की जिम्मेदार कांग्रेस तो फिर आपकी (भाजपा सरकार) क्या जिम्मेदारी? इससे अच्छा होगा कि आप इस्तीफा दो, घर बैठो।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App