ताज़ा खबर
 

पतंजलि पर जुर्माने के बीच रामदेव की इस कंपनी को बड़ा मुनाफा, 2 साल पहले लगाया था दांव

वित्त वर्ष की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में रुचि सोया इंडस्ट्रीज का शुद्ध लाभ 227.44 करोड़ रुपये रहा। बता दें कि बीते साल रुचि सोया न्यूट्रीला ब्रांड से उत्पाद बेचती है।

2019 में पतंजलि आयुर्वेद ने 4,350 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया था। (Photo-indian express)

योग के साथ कारोबार जगत में एक खास पहचान बना चुके बाबा रामदेव की कंपनी रुचि सोया को बड़ा मुनाफा हुआ है। ये मुनाफा ऐसे समय में हुआ है जब रामदेव की पतंजलि पर जुर्माना लगने की खबरें आई हैं।

227 करोड़ रुपये मुनाफा: चालू वित्त वर्ष की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में रुचि सोया इंडस्ट्रीज का शुद्ध लाभ 227.44 करोड़ रुपये रहा। कंपनी को इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही में 7,617.43 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी ने कहा कि उसकी कुल आय अलोच्य तिमाही में 4,475.6 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 2019-20 की तीसरी तिमाही में 3,725.66 करोड़ रुपये थी।

बीते 52 हफ्ते की बात करें तो रुचि सोया का शेयर भाव आधा हो चुका है। रुचि सोया का 29 जून 2020 का शेयर भाव 1535 रुपये के स्तर पर था। वहीं, ये अब 705 रुपये के भाव पर आ चुका है।

बीएसई की वेबसाइट के मुताबिक मार्केट कैपिटल 21,000 करोड़ रुपये है। आपको बता दें कि बीते साल रुचि सोया न्यूट्रीला ब्रांड से उत्पाद बेचती है। 2019 में पतंजलि आयुर्वेद ने 4,350 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया था।

पतंजलि पर जुर्माना क्योंः हाल ही में केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) ने बाबा रामदेव की पतंजलि पेय प्राइवेट लिमिटेड पर 1 करोड़ का जुर्माना लगाया है।

खबर के मुताबिक प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन नियम 2018 का पालन नहीं करने के लिए पतंजलि पर एक करोड़ का जुर्माना लगाया गया है। CPCB ने कंपनी को जवाब देने के लिए 15 दिनों का समय दिया है।

Next Stories
1 फ्यूचर ग्रुप से डील को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंचा अमेजन, जानें क्यों हो गई मुकेश अंबानी से ‘दुश्मनी’
2 रॉकेट की तरह बढ़ रही इस शख्स की दौलत, कंपनी के मुनाफे का फायदा
3 5 लाख रुपये से भी कम में घर ले जाएं Mahindra Thar, ब्लैक लुक, बढ़िया है कंडीशन!
यह पढ़ा क्या?
X