ताज़ा खबर
 

रामदेव की इस कंपनी के निवेशकों की चांदी, पतंजलि के ऐलान का जबरदस्त फायदा

Baba ramdev firm Patanjali, Coronil, Ruchi soya: पतंजलि ने दावा किया कि यह कोविड-19 का मुकाबला करने वाली पहली साक्ष्य-आधारित दवा है।

baba ramdev, ruchi soya, ruchi soya shareRuchi Soya के शेयर भाव में 5 फीसदी की तेजी है। (Photo-indian express )

Baba Ramdev firm Patanjali, Coronil, Ruchi soya: बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि (Patanjali) आयुर्वेद ने शुक्रवार को कहा कि कोरोनिल (Coronil) को अब विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) प्रमाणन योजना के तहत आयुष मंत्रालय से प्रमाण पत्र मिला है। कंपनी ने दावा किया कि यह कोविड-19 का मुकाबला करने वाली पहली साक्ष्य-आधारित दवा है।

पतंजलि (Patanjali) के इस ऐलान का फायदा रामदेव की एक अन्य कंपनी रुचि सोया (Ruchi Soya) को मिला है। दरअसल, गुरुवार को रुचि सोया (Ruchi Soya) के शेयर भाव में जबरदस्त तेजी रही। रुचि सोया (Ruchi Soya) के शेयर भाव में 5 फीसदी की तेजी है। शुक्रवार को कारोबार के अंत में रुचि सोया (Ruchi Soya) का शेयर 692.85 रुपये पर रहा। इस दौरान रुचि सोया का मार्केट कैपिटल 20,497.34 करोड़ रुपये पहुंच गया है।

आपको बता दें कि शुक्रवार को पतंजलि (Patanjali) ने एक बयान में कहा, ‘‘कोरोनिल को केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन के आयुष खंड से फार्मास्युटिकल प्रोडक्ट (सीओपीपी) का प्रमाण पत्र मिला है।’’ सीओपीपी के तहत कोरोनिल को अब 158 देशों में निर्यात किया जा सकता है।

इस बारे में स्वामी रामदेव ने कहा कि कोरोनिल प्राकृतिक चिकित्सा के आधार पर सस्ते इलाज के रूप में मानवता की मदद करेगी। आयुष मंत्रालय ने उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर कोरोनिल टैबलेट को ‘‘कोविड-19 में सहायक उपाय’’ के रूप में मान्यता दी है।

पतंजलि (Patanjali) ने आयुर्वेद आधारित कोरोनिल को पिछले साल 23 जून को पेश किया था, जब महामारी अपने चरम पर थी। हालांकि, इसे गंभीर आलोचना का सामना करना पड़ा क्योंकि इसके पक्ष में वैज्ञानिक प्रमाणों की कमी थी। इसके बाद आयुष मंत्रालय ने इसे सिर्फ ‘‘प्रतिरक्षा-वर्धक’’ के रूप में मान्यता दी। कोरोनिल का विकास पतंजलि (Patanjali) अनुसंधान संस्थान द्वारा किया गया है।

Next Stories
1 पेट्रोल की महंगाई के बीच नितिन गडकरी बोले-इलेक्ट्रिक कार का इस्तेमाल करें मंत्री! LPG के लिए दी ये सलाह
2 घर खरीदने के लिए LIC दे रहा सस्ता लोन, इन ग्राहकों को होगा सीधा फायदा
3 7 साल पहले बैंक लाइसेंस के लिए जुटी थी अनिल अंबानी की ये कंपनी, अब बिकने को है तैयार
ये पढ़ा क्या?
X