रूचि सोया के लिए रामदेव-बालकृष्ण के नाम को मिली मंजूरी, इधर निवेशकों में दिखी निराशा

रूचि सोया इंडस्ट्रीज लि. के शेयरधारकों ने योग गुरू बाबा रामदेव, उनके छोटे भाई राम भारत और उनके करीबी सहयोगी आचार्य बालकृष्ण को कंपनी के निदेशक मंडल में शामिल किये जाने को मंजूरी दे दी।

Baba Ramdev, Acharya Balkrishna, Patanjali Ayurved group, firm
रूचि सोया का शेयर भाव 660.45 रुपये पर आ गया (Photo-indian express)

पतंजलि आयुर्वेद समूह की कंपनी रूचि सोया इंडस्ट्रीज लि. के शेयरधारकों ने योग गुरू बाबा रामदेव, उनके छोटे भाई राम भारत और उनके करीबी सहयोगी आचार्य बालकृष्ण को कंपनी के निदेशक मंडल में शामिल किये जाने को मंजूरी दे दी।

वहीं, भारतीय शेयर बाजार में रूचि सोया के शेयर में बड़ी गिरावट दर्ज की गई। भारतीय शेयर बाजार में रूचि सोया का शेयर भाव 2.78 फीसदी लुढ़क कर 660.45 रुपये पर आ गया। बीएसई की वेबसाइट के मुताबिक प्रति शेयर के हिसाब से 18.90 रुपये की गिरावट आई है। वहीं, मार्केट कैपिटल भी कम होकर 20 हजार करोड़ रुपये से नीचे आ गया है। वहीं, शेयर बाजार को दी सूचना में रूचि सोया ने कहा कि उसके शेयरधारकों ने जरूरी बहुमत के साथ सभी प्रस्तावों को मंजूरी दे दी।

रूचि सोया ने राम भारत (41) को कंपनी का प्रबंध निदेशक नियुक्त किये जाने के साथ आचार्य बालाकृष्ण को कंपनी का चेयरमैन पुन:नामित किये जाने को मंजूरी दे दी। साथ ही स्वामी रामदेव (49) को कंपनी निदेशक मंडल का निदेशक नियुक्त किये जने को मंजूरी दी गयी है। बता दें कि रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद ने पिछले साल 4,350 करोड़ रुपये मे रूचि सोया का अधिग्रहण किया था। रूचि सोया न्यूट्रीला ब्रांड से उत्पाद बेचती है।

शेयर बाजार का हाल: भारतीय शेयर बाजार मंगलवार को शुरुआती गिरावट से उबर कर 453 अंक उछाल के साथ बंद हुआ। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 452 अंक यानी 0.99 प्रतिशत मजबूत होकर 46,006 अंक पर बंद हुआ।

कारोबार के दौरान इसमें 968 अंक का उतार-चढ़ाव आया। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 137.90 अंक यानी 1.03 प्रतिशत मजबूत होकर 13,466.30 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में एचसीएल टेक रही। इसमें 5.09 प्रतिशत की तेजी आयी।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
भारत-चीन के बीच बेहतर व्यापार संबंधों के लिए समझौता, 20 अरब डॉलर निवेश होगा