अटल पेंशन योजना में रोजाना 10 रुपये से भी कम के निवेश पर पा सकते हैं 5,000 मासिक की पेंशन

Atal Pension Yojana benefits: कोई व्यक्ति 22 साल की उम्र में इस स्कीम से जुड़ता है और रिटायरमेंट के बाद 1000 रुपये मासिक पेंशन चाहता है तो उसे हर महीने 59 रुपये जमा करने होंगे। इसी तरह यदि कोई निवेशक 5,000 रुपये पेंशन चाहता है तो उसे 292 रुपये मासिक जमा करने होंगे।

currencyअटल पेंशन योजना में निवेश से पा सकते हैं 5000 रुपये महीने की पेंशन

संगठित क्षेत्र के कर्मचारी पीएफ आदि के जरिए भविष्य के लिए कुछ रकम जमा कर लेते हैं, लेकिन असंगठित क्षेत्र के लोगों के लिए यह बड़ी चुनौती है। ऐसे में रिटायरमेंट की उम्र के बाद उनकी जिंदगी कठिन हो जाती है। गरीब और मजदूर तबके के लोगों को ऐसे संकट से बचाने के लिए सरकार ने अटल पेंशन योजना लॉन्च की है, जिसके जरिए महज 10 रुपये प्रतिदिन के निवेश पर ही 5,000 रुपये महीने की पेंशन हासिल की जा सकती है। आइए जानते हैं, कैसे आप इस स्कीम का ले सकते हैं फायदा…

केंद्र सरकार ने 2015 में इस पेंशन स्कीम को लॉन्च किया था ताकि असंगठित सेक्टर के कर्मचारी भविष्य के लिए कुछ पूंजी जोड़ सकें। पेंशन फंड रेग्युलेटरी ऐंड डिवेलपमेंट अथॉरिटी की ओर से संचालित इस स्कीम से आप जितनी कम आयु में जुड़ेंगे, आपको मासिक तौर पर उतना ही कम निवेश करना होगा। इस स्कीम के तहत आप मासिक 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये तक की पेंशन के लिहाज से निवेश कर सकते हैं, जो आपको 60 वर्ष की आयु के बाद ही मिलेगी।

उम्र और प्लान के हिसाब से आप इस स्कीम में कम से कम 42 रुपये मासिक से लेकर 1,318 रुपये मासिक तक जमा कर सकते हैं। मान लीजिए कि कोई व्यक्ति 22 साल की उम्र में इस स्कीम से जुड़ता है और रिटायरमेंट के बाद 1000 रुपये मासिक पेंशन चाहता है तो उसे हर महीने 59 रुपये जमा करने होंगे। इसी तरह यदि कोई निवेशक 5,000 रुपये पेंशन चाहता है तो उसे 292 रुपये मासिक जमा करने होंगे। इस तरह से देखें तो यह रकम 10 रुपये प्रति दिन से भी कम होती है। इस स्कीम के तहत 18 साल की उम्र से निवेश किया जा सकता है। अटल पेंशन योजना से जुड़ने की अधिकतम आयु 39 वर्ष है, हालांकि पेंशन की रकम योजनाधारक की आयु 60 साल पूरी हो जाने के बाद ही मिलेगी।

यदि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो फिर उसके पति या पत्नी या फिर नॉमिनी को इस स्कीम का लाभ मिलेगा। वहीं योजनाधारक की मृत्यु यदि 60 साल की आयु से पहले ही जाती है तो उसका पति या फिर पत्नी स्कीम को जारी रखने या फिर बंद करने का फैसला ले सकता है। योजनाधारक की मृत्यु होने पर नॉमिनी या फिर पति और पत्नी को जमा हुई पूरी रकम ब्याज सहित लौटा दी जाएगी।

कैसे कर सकते हैं स्कीम के लिए आवेदन: इस स्कीम से जुड़ने के लिए आप किसी भी बैंक में विजिट कर सकते हैं। लगभग सभी सरकारी बैंकों से यह योजना संचालित हो रही है। इस स्कीम का फॉर्म आप किसी भी बैंक की वेबसाइट से ऑनलाइन भी डाउनलोड कर सकते हैं। यदि आप फॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड करते हैं तो उसे भरकर आपको बैंक में देना होगा। इसके साथ ही आपको अपना वैध मोबाइल नंबर और आधार कार्ड की फोटो कॉपी भी देनी होगी। आपका आवेदन स्वीकार होते ही मेसेज आ जाएगा।

Next Stories
1 गुस्से का शिकार होने से बचने की रणनीति, पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने HDFC में कम की हिस्सेदारी
2 मध्य प्रदेश के रीवा में एशिया के सबसे बड़े सोलर पावर प्लांट का पीएम नरेंद्र मोदी ने किया उद्घाटन, जानें खासियतें
3 जानें, कैसे आसानी से आधार कार्ड में आप मोबाइल नंबर करा सकते हैं अपडेट, बेहद जरूरी है यह काम
यह पढ़ा क्या?
X