ताज़ा खबर
 

केजरीवाल ने व्यापारियों के लिए लॉन्च की मोबाइल एप, अब ऑनलाइन हो सकेंगे ये काम

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को एक ‘डीवैट एम सेवा’ नाम से मोबाइल ऐप की शुरुआत की जिसके माध्यम से व्यापारी वैट विभाग में अपना पंजीकरण करा सकेंगे।

Author नई दिल्ली | Published on: June 1, 2016 1:41 AM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतिकात्मक तौर पर। (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को एक ‘डीवैट एम सेवा’ नाम से मोबाइल ऐप की शुरुआत की जिसके माध्यम से व्यापारी वैट विभाग में अपना पंजीकरण करा सकेंगे। सरकार की यह पहल कर संग्रह को बढ़ावा देने के लिए है। मोबाइल ऐप लांच करते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा, ‘इससे भ्रष्टाचार और इंस्पेक्टर राज खत्म होगा। ऐप के माध्यम से व्यापारी अपने पंजीकरण के लिए आॅनलाइन आवेदन कर सकेंगे, उन्हें संबंधित विभाग में आवेदन जमा करने नहीं जाना होगा, साथ ही वैट इंस्पेक्टर को व्यापारिक परिसर में जाकर निरीक्षण करने की जरूरत नहीं है’।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘इस ऐप के जरिए आवेदन के 24 घंटे के अंदर पंजीकरण तय किया जाएगा’। सरकार के अनुसार फिलहाल वैट विभाग के पास पंजीकरण के लिए 41,000 आवेदन लंबित हैं जिनका इस ऐप के माध्यम से अब शीघ्र निपटारा किया जाएगा।

केजरीवाल ने दावा किया कि व्यापारियों की वास्तविक पार्टी भाजपा नहीं आप है जो उनका ख्याल सत्ता में आने के बाद भी रख रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले एक साल में सरकार ने व्यापारियों के हित में कई फैसले किए जिसमें इंस्पेक्टर राज खत्म करना, कई चीजों पर वैट दरों में कटौती, और व्यापारियों के समस्याओं का समाधान शामिल हैं।

वैट आयुक्त एसएस यादव ने कहा कि डीवैट एम सेवा से राजधानी के अंदर व्यापार करना आसान होगा क्योंकि इस ऐप के कारण वैट इंस्पेक्टर को व्यापार परिसर में जाने की जरूरत नहीं है, व्यापारी अपने संस्थान या व्यापार परिसर की तस्वीर ऐप के माध्यम से अपलोड कर सकते हैं। वैट विभाग जल्द ही एक हेल्पलाइन ‘155055’ शुरू करेगा जो पंजीकृत डीलरों की समस्याओं का समाधान करेगा और नए व्यापार शुरू करने में मदद पहुंचाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X