ताज़ा खबर
 

ANIL AMBANI किराए पर देंगे अपना प्राइवेट जेट! जानिए आर्थिक संकट से जूझ रहे कारोबारी ने लिया क्या फैसला

अनिल अंबानी की रिलायंस ट्रांसपोर्ट एंड ट्रेवल्स ने अपने तीन बिजनेस जेट्स में से एक 13 सीट वीले ग्लोबल-5000 को बेंगलुरु में एक वैश्विक चार्टर कंपनी को किराए पर देने के लिए रिलीज कर दिया है।

Author नई दिल्ली | Published on: December 8, 2019 12:58 PM
उद्योगपति अनिल अंबानी। (रॉयटर्स)

व्यापार में मंदी और भारी कर्ज तले दबे कारोबारी अनिल अंबानी ने अब अपने खर्चों में कटौती करनी शुरू कर दी है। इसी दिशा में एक बड़ा कदम उठाते हुए उन्होंने अपना एक लग्जरी विमान किराए पर देने की योजना बनाई है। इकोनॉमिक्स टाइम्स में छपी एक खबर के मुताबिक अंबानी की रिलायंस ट्रांसपोर्ट एंड ट्रेवल्स ने अपने तीन बिजनेस जेट्स में से एक 13 सीट वीले ग्लोबल-5000 को बेंगलुरु में एक वैश्विक चार्टर कंपनी को किराए पर देने के लिए रिलीज कर दिया है।

मामले से जुड़े एक व्यक्ति ने कहा कि ‘यह वही विमान है जिसे अनिल अंबानी अपनी यात्रा के दौरान इस्तेमाल करते थे।’ रेगुलेटरी फाइलिंग के अनुसार रिलायंस ट्रांसपोर्ट के पास दो और अन्य विमान व एक हेलीकॉप्टर भी है।

खबर के मुताबिक एक्टर और कारोबारी सचिन जोशी की विकिंग एविएशन (Viking Aviation), इंडियाबुल्स की एयरमिड एविएशन, रेलीगेर की लिगारे एविएशन भी वित्तीय संकट का सामना कर रही हैं और अपने विमानों को बेचने पर विचार कर रही हैं। नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) के आंकड़ों के मुताबिक देश में देश में नॉन शेड्यूल्ड ऑपरेटर की संख्या लगातार घट रही है। करीब एक साल पहले इनकी संख्या 130 थी जो इस साल सितंबर में घटकर 99 हो गई।

मामले से जुड़े एक अन्य शख्स ने कहा, ‘कारोबार में गिरावट थम नहीं रही है क्योंकि उनमें से कई ऐसे व्यापारी हैं जो संकट में हैं और अपना कारोबार बंद करना चाह रहे हैं।’ वहीं रिलायंस ट्रांसपोर्ट, वाइकिंग, इंडियाबुल्स और लिगारे ने अखबार द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब नहीं दिए।

घटनाक्रम से जुड़े सूत्रों ने बताया कि वाइकिंग एविएशन के मालिक सचिन जोशी के पास अपने दो एयरक्राफ्ट के संचालन के लिए प्रार्याप्त फंड नहीं है। इनमें एक एयरक्राफ्ट मुंबई एयरपोर्ट पर पार्क्ड है जबकि दूसरा नांदेड़ में है। एक व्यक्ति ने बताया कि कंपनी ने पिछले चार महीने से कर्मचारियों को वेतन का भुगतान तक नहीं किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सौ फीसदी तक बढ़ सकता है GST, महंगाई से लड़ रही जनता पर हो सकता है एक और वार
ये पढ़ा क्या?
X