ताज़ा खबर
 

बिकने से पहले बिगड़ी अनिल अंबानी के कंपनी की सेहत, 4000 करोड़ से ज्यादा का घाटा, निवेशकों को झटका

बीते दिनों रिलांयस कैपिटल के तिमाही नतीजे जारी हुए हैं। इसके मुताबिक दिसंबर 2020 में समाप्त तिमाही में रिलायंस कैपिटल को 4018.00 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है।

रिलायंस कैपिटल बिक्री की प्रक्रिया से गुजर रही है। (photo-indian express )

अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कैपिटल बिक्री की प्रक्रिया से गुजर रही है। ये बिक्री प्रक्रिया ऐसे समय में हो रही जब रिलायंस कैपिटल को बड़ा घाटा हुआ है।

दरअसल, बीते दिनों रिलांयस कैपिटल के तिमाही नतीजे जारी हुए हैं। इसके मुताबिक दिसंबर 2020 में समाप्त तिमाही में रिलायंस कैपिटल को 4018.00 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। यह दिसंबर 2019 को समाप्त पिछली तिमाही के दौरान 135.00 करोड़ रुपये पर था। बता दें कि बीते साल रिलायंस कैपिटल की इकाइयों में पूरी या कुछ हिस्सेदारी लेने को लेकर रूचि पत्र आमंत्रित किये गये थे।

RCL की अनुषंगी इकाइयां रिलायंस जनरल इंश्योरेंस, रिलायंस फाइनेंशियल, रिलायंस निप्पन लाइफ इंश्योरेंस कंपनी, रिलायंस सिक्योरिटीज और रिलायंस एसेट रिकंस्ट्रक्शन लिमिटेड हैं। रिलायंस कैपिटल के शेयर की बात करें तो गिरावट देखने को मिल रही है। इस कंपनी के निवेशकों को बड़ा नुकसान हुआ है। शेयर भाव 10.09 (-0.10%) पर आ गया। कंपनी का कुल मार्केट कैपिटल 254 करोड़ रुपये है।

इस बीच, बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 12.78 अंक यानी 0.02 प्रतिशत की मामूली तेजी के बाद 51,544.30 अंक के नये रिकॉर्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ। इससे पहले सेंसेक्स में 543.96 अंक के दायरे में घट-बढ़ रही। हालांकि, एनएसई का निफ्टी 10 अंक यानी 0.07 प्रतिशत फिसलकर 15,163.30 अंक पर बंद हुआ। सप्ताह के दौरान सेंसेक्स 812.67 अंक यानी 1.60 प्रतिशत, जबकि एनएसई निफ्टी 239.05 अंक यानी 1.60 प्रतिशत की बढ़त में रहा।

सेंसेक्स की कंपनियों में आईसीआईसीआई बैंक में सर्वाधिक 2.67 फीसदी की बढ़त रही। इसके साथ एक्सिस बैंक, इंफोसिस, एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, बजाज फिनसर्व और भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का स्थान रहा।

Next Stories
1 मोदी सरकार को एक साथ मिली राहत की 2 खबर, महंगाई पर कंट्रोल, IIP में ग्रोथ
2 जून तक बिक जाएगी तेल कंपनी BPCL में हिस्सेदारी, सरकार में बताया विनिवेश का पूरा प्लान
3 मुकेश अंबानी के लिए सहारा हैं ये दो भाई, रिलायंस को आगे बढ़ाने में कर रहे बड़ी मदद
ये पढ़ा क्या?
X