7 साल पहले बैंक लाइसेंस के लिए जुटी थी अनिल अंबानी की ये कंपनी, अब बिकने को है तैयार

रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) के अधीन आने वाली कंपनियां अब बिक्री की प्रक्रिया से गुजर रही है। इस कंपनी ने करीब सात साल पहले बैंक के लाइसेंस के लिए भी आवेदन किया था।

anil ambani, reliance capital, anil ambani news
Reliance Capital ने बैंक के लाइसेंस के लिए भी आवेदन किया था (Photo-indian express)

कर्ज में डूबे अनिल अंबानी (Anil Ambani news) के सामने कई चुनौतियां हैं। अनिल अंबानी के रिलायंस समूह की रिलायंस कैपिटल लिमिटेड (Reliance Capital) के अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है। लेकिन क्या आपको पता है कि इस कंपनी ने करीब सात साल पहले बैंक के लाइसेंस के लिए भी आवेदन किया था।

इसके लिए रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) ने जापान के सुमितोमो मित्सुई बैंक और निप्पन लाइफ को चुनिंदा भागीदार बनाने की योजना में थी। आपको बता दें कि रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) के अधीन आने वाली कंपनियां अब बिक्री की प्रक्रिया से गुजर रही है। रिलायंस कैपिटल ( Reliance Capital)की अनुषंगी इकाइयां रिलायंस जनरल इंश्योरेंस, रिलायंस निप्पन लाइफ इंश्योरेंस कंपनी, रिलायंस सिक्योरिटीज, रिलायंस फाइनेंशियल लि. और रिलायंस एसेट रिकंस्ट्रक्शन लिमिटेड हैं।

रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) की इकाइयों में पूरी या कुछ हिस्सेदारी लेने को लेकर रूचि पत्र आमंत्रित किये गये थे। इसके लिए अमेरिका की ओकट्री और जे सी फ्लावर समेत आठ कंपनियां प्रतिस्पर्धा की दौड़ में शामिल हैं।

रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) का शेयर भाव: वहीं, रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) के शेयर भाव की बात करें तो यह ये 2 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। रिलायंस कैपिटल का शेयर भाव 10 रुपये से नीचे आ गया है।

अगर मार्केट कैप की बात करें तो 245 करोड़ रुपये है। बीते दिनों रिलांयस कैपिटल के तिमाही नतीजे जारी हुए हैं। इसके मुताबिक दिसंबर 2020 में समाप्त तिमाही में रिलायंस कैपिटल को 4018.00 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। यह दिसंबर 2019 को समाप्त पिछली तिमाही के दौरान 135 करोड़ रुपये पर था।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X