ताज़ा खबर
 

इस साल ब‍िना सैलरी के काम करेंगे र‍िलायंस कम्युनिकेशंस के चेयरमैन अन‍िल अंबानी

आरकॉम ने स्टेटमेंट जारी कर कहा कि रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन अनिल धीरू भाई अंबानी ने मौजूदा वित्त वर्ष में आरकॉम से किसी भी तरह की सैलरी या कमीशन नहीं लेने का फैसला किया है। कंपनी ऋणदाताओं को कुछ भुगतान करने में डिफॉल्ट घोषित हुई है।

रिलायंस एडीए ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी। (फाइल फोटो)

टेलिकॉम और आईटी सेक्टर में भारी उथल-पुथल के बीच देश की दिग्गज कंपनियों जैसे इंफोसिस के सीईओ विशाल सिक्का, विप्रो के चेयरमैन अज़ीम प्रेमजी, आइडिया के कुमार मंगलम बिड़ला की सैलरी में कटौती की खबरें सामने आई थी। अब रिलायंस कम्युनिकेशंस के चेयरमैन अनिल अंबानी ने मौजूदा वित्त वर्ष के दौरान सैलरी नहीं लेने की बात सामने आई है। रिलायंस के भारी कर्ज और क्रेडिट डाउनग्रेड्स से जूझने के कारण रिलायंस कम्युनिकेशंस के अध्यक्ष अनिल अंबानी ने मौजूदा वित्तीय वर्ष में कोई वेतन या कमीशन नहीं लेने का फैसला किया है। यही नहीं कंपनी के शीर्ष प्रबंधन ने भी इस साल के अंत तक 21 दिनों की सैलरी नहीं लेने का फैसला लिया है। आरकॉम ने बुधवार को यह घोषणा की।

आरकॉम ने स्टेटमेंट जारी कर कहा कि रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन अनिल धीरू भाई अंबानी ने मौजूदा वित्त वर्ष में आरकॉम से किसी भी तरह की सैलरी या कमीशन नहीं लेने का फैसला किया है। कंपनी ऋणदाताओं को कुछ भुगतान करने में डिफॉल्ट घोषित हुई है। इसे दिसंबर तक रणनीतिक पुनर्गठन योजना के लिए समय दिया गया है जिसके तहत इसे 45,000 करोड़ रुपये की सेवा ऋण के लिए 7 महीने का ठहराव मिलेगा। आरकॉम ने कहा कि उसका लक्ष्य इस साल के सितंबर तक दो प्रमुख सौदों को पूरा करना है, जिससे कंपनी के कर्जो का बोझ घटाने में मदद मिलेगी। यह फैसला कंपनी के ‘स्वेच्छा से रणनीतिक बदलाव’ कार्यक्रम का एक हिस्सा है।”

बयान में कहा गया है, “एयरसेल, ब्रुकफील्ड सौदा इस साल 30 सितंबर तक पूरा होने की उम्मीद है, जोकि विभिन्न मंजूरियों के अधीन है। इससे कंपनी के कर्ज में 60 फीसदी या 25,000 करोड़ रुपये की कटौती होगी।” पिछले कुछ दिनों से कंपंनी के रेटिंग के गिरावट दिखाई दे रही है। ऑरकॉम के शेयर्स बुधवार दोपहर को 0.83 प्रतिशत की बढ़त के साथ 18.2 प्रति यूनिट पर ट्रेडिंग कर रहा है। इससे पहले टेलिकॉम कंपनी आइडिया की ओर से कुमार मंगलम बिड़ला की सैलरी में गिरावट की जानकारी दी गई थी। टेलिकॉम ऑपरेटर आइडिया ने हाल ही में बताया था कि उसे मार्केट में लिस्टेड कंपनी बनने के बाद पहली बार घाटा उठाना पड़ा है। वित्त वर्ष 2016 में आइडिया के चेयरमैन बिड़ला की सैलरी 13.15 करोड़ रुपए थी लेकिन अगले वित्त वर्ष में यह कई गुना गिरकर 3.30 लाख रुपए तक पहुंच गई।

अब कैश नहीं चेक या अकाउंट में ही आएगी सैलरी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App