scorecardresearch

Elon Musk को टैग कर आनंद महिद्रा ने शेयर किया बैलगाड़ी का फोटो, बोले- ये है असली टेस्ला की गाड़ी

Anand Mahindra Tweet : आनंद महिंद्रा ने ग्रामीण जीवन को लेकर एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने बैलगाड़ी को असली टेस्ला वाहन बताया है।

Elon Musk | Anand Mahindra | Business News
आनंद महिंद्रा और एलन मस्क (फोटो : पीटीआई और राॅयटर्स)

देश के जाने माने कारोबारी आनंद महिंद्रा हर मुद्दे पर खुलकर अपनी राय रखने के लिए जाने जाते हैं। वह अकसर कई मुद्दों पर  सोशल मीडिया पर ट्वीट भी शेयर करते हैं। आज उन्होंने पुराने परिवहन के साधन बैलगाड़ी को लेकर ट्वीट किया है और उसे असली टेस्ला बताया। इसके साथ उन्होंने इस ट्वीट में टेस्ला के सीईओ एलन मस्क को भी टैग किया।

महिंद्रा ने ट्वीट में बैलगाड़ी की एक पेंटिंग को शेयर किया, जिसमें बैल एक गांव की कच्ची सड़क पर बैलों का एक जोड़ा पूरी रफ्तार के साथ पीछे बंधी बग्गी को खीच रहा है,जिसमें दो व्यक्ति आराम से सो रहे हैं। पेंटिंग के नीचे कैप्शन में लिखा था। “यह असली टेस्ला है। कोई गूगल मैप की आवश्यकता नहीं है, कोई ईधन खरीदने की जरुरत नहीं है और पूरी तरह से स्वचालित है। घर से काम की जहग जाने के लिए इस पर सेटिंग सेट कीजिए, आराम करते और सोते हुए आसानी से अपनी मंजिल तक पहुंच सकते हैं।”

गौरतलब है कि एलन मस्क की टेस्ला दुनिया की सबसे आधुनिक इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी कंपनियों में से एक है। टेस्ला की गाड़ियों को सेल्फ ड्राइव मोड़ भी होता है जिसकी मदद से उपयोगकर्ता कार के कंप्यूटर सिस्टम में अपनी डेस्टिनेशन डालकर आसानी से वहां पहुंच सकते हैं।

आनंद महिंद्रा के इस ट्वीट पर एक ट्विटर यूजर हंसराज सिंह (Hansraj66677852) ने ट्वीट किया कि भारत की संस्कृति और सभ्यता ने जो तकनीक विश्व को दी है इसका कर्ज संपूर्ण विश्व कभी नहीं उतार सकता।  हमारे पालतू पशु और जानवर हमारी दिनचर्या की संस्कृति का हजारों सालों से हमेशा हिस्सा रहे हैं। हमें गर्व है हमारी संस्कृति पर, जिसने मानव को जानवरों से प्यार करना सिखाया।

एक अन्य यूजर @Sandeeprajak99 ने ट्वीट का जवाब देते हुए कहा कि धन्यवाद श्रीमान आनंद महिंद्रा जी बचपन की याद ताजा हो गई। मैं ननिहाल गांव में जाने पर बैलगाड़ी चलाने के लिए जिद करके चलाता था और वाकई में यह हम शहरी लोगों के लिए आप सभी वाहन निर्माता के द्वारा बनाई एसयूवी के समान रोचक यात्रा होती थी। सिर्फ एक-दो हांक और बैलगाड़ी एफएसडी मोड पर चलती थी। इसके साथ ही एक अन्य यूजर हर्ष ने लिखा कि टेस्ला जैसी ईवी भारत में बनाएं।

पढें व्यापार (Business News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.