ताज़ा खबर
 

Amazon ने महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ की डील, मुकेश अंबानी की बढ़ेगी टेंशन!

अमेजन ने पर्यावरण को लेकर किये एक आश्वासन के तहत 2030 तक अपने वैश्विक डिलिवरी नेटवर्क में एक लाख ई-वाहनों को शामिल करने की घोषणा की थी।

jeff bezos, mukesh ambani, amazonइस डील के बाद मुकेश अंबानी के रिलायंस रिटेल की टेंशन बढ़ेगी।(Photo-indian express )

भारत के रिटेल मार्केट में विस्तार के लिए अमेरिकी ई कॉमर्स कंपनी अमेजन ने एक बड़ी डील की है। ये डील ई-वाहन कंपनी महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ हुई है। इस डील के बाद मुकेश अंबानी के रिलायंस रिटेल की टेंशन बढ़ेगी।

अमेजन ने की करीब 100 ई-वाहनों की डील: अमेजन ने देश में अपने डिलिवरी नेटवर्क में महिंद्रा इलेक्ट्रिक के करीब 100 ई-वाहनों को शामिल किया है। दोनों कंपनियों के एक संयुक्त बयान के अनुसार, महिंद्रा के करीब 100 ट्रियो जोर ई-वाहनों को देश के सात शहरों में अमेजन के डिलिवरी नेटवर्क में शामिल किया गया है। ये शहर बेंगलुरू, नयी दिल्ली, हैदराबाद, अहमदाबाद, भोपाल, इंदौर और लखनऊ हैं। इन्हें अमेजन इंडिया के डिलिवरी सेवा साझेदारों के नेटवर्क में शामिल किया गया है।

बता दें कि अमेजन ने पर्यावरण को लेकर किये एक आश्वासन के तहत 2030 तक अपने वैश्विक डिलिवरी नेटवर्क में एक लाख ई-वाहनों को शामिल करने की घोषणा की थी। इसके तहत कंपनी भारत में 2025 तक डिलिवरी नेटवर्क में 10 हजार ई-वाहनों को शामिल करेगी। कंपनी ने इसी के अनुरूप महिंद्रा इलेक्ट्रिक के करीब 100 ई-वाहनों को डिलिवरी बेड़े का हिस्सा बनाया है।

अमेजन ने कहा, ‘‘महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ यह साझेदारी पर्यावरणीय स्थिरता लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।’’ महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) महेश बाबू ने कहा, ‘‘हमारा मानना ​​है कि यह साझेदारी भारत की रसद और डिलिवरी आवश्यकताओं को फिर से परिभाषित करेगी। इसके साथ ही साथ यह साझेदारी महिंद्रा और अमेजन को पर्यावरण संबंधी लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करेगी।’’

रिलायंस रिटेल की डील पर अड़ंगा: अमेजन ने ये डील ऐसे समय में की है जब रिलायंस रिटेल और फ्यूचर ग्रुप के सौदे पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है। ये रोक अमेजन की ही आपत्ति पर लगाई गई है।

आपको बता दें कि रिलायंस और फ्यूचर ग्रुप के बीच बीते साल 24 हजार करोड़ से ज्यादा की एक डील हुई थी। इस डील को लेकर फ्यूचर की हिस्सेदार अमेजन को आपत्ति है। ऐसे में अमेजन ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। रिलायंस और फ्यूचर ग्रुप की डील होने के बाद रिटेल कारोबार में रिलायंस का बड़ा विस्तार हो जाएगा।

Next Stories
1 जिस कंपनी पर अजय पीरामल ने लगाया दांव, उसमें 6 हजार करोड़ के फ्रॉड का खुलासा
2 तेल का खेल : लोगों तक पहुंचने में तीन गुना क्यों बढ़ जाती है कीमत
3 आनंद महिंद्रा या सुनील मित्तल, दोनों में ज्यादा अमीर कौन, जानिए कारोबार की डिटेल
ये पढ़ा क्या?
X