ताज़ा खबर
 

AMAZON, FLIPKART पर मंदी बेअसर! पिछले साल से 33% ज्यादा सेल, बेच डाला 3.7 अरब डॉलर का माल

एनालिटिक्स, ब्रांड्स और लॉजिस्टिक कंपनियों का अनुमान है कि अमेजन और फ्लिपकार्ट ने मिलकर बीते 6 दिनों में 3.5 बिलियन डॉलर से लेकर 3.7 बिलियन डॉलर के बीच बिक्री की है।

e-commerce saleई-कॉमर्स कंपनियों की बिक्री में आया जबरदस्त उछाल।

भारत में इन दिनों त्योहारी सीजन चल रहा है और लोग जमकर खरीददारी कर रहे हैं। ऐसे में ई-कॉमर्स कंपनियां जमकर चांदी काट रही हैं। बता दें कि हालिया फेस्टिव सीजन में दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनियों अमेजन और फ्लिपकार्ट की बिक्री में जबरदस्त उछाल आया है। इकॉनोमिक टाइम्स की एक खबर के अनुसार, एनालिटिक्स, ब्रांड्स और लॉजिस्टिक कंपनियों का अनुमान है कि अमेजन और फ्लिपकार्ट ने मिलकर बीते 6 दिनों में 3.5 बिलियन डॉलर से लेकर 3.7 बिलियन डॉलर के बीच बिक्री की है। बीते साल के मुकाबले यह 33% ज्यादा है।

खबर के अनुसार, अमजेन इंडिया के हेड अमित अग्रवाल का कहना है कि ग्राहकों और खरीददारी के मामले में उनकी कंपनी का हिस्सा सबसे ज्यादा रहा। अग्रवाल ने मार्केट रिसर्च एजेंसी नीलसन की ई-एनालिटिक की रिपोर्ट के आधार पर उक्त दावा किया। कंपनी के अनुसार, कंपनी ने बाजार में ग्राहकों के मामले में 50% और वैल्यू के मामले में 46% हिस्से को आकर्षित किया।

वहीं दूसरी तरफ इंडियन मार्केटप्लेस ग्रुप के सीईओ कल्याण कृष्णामूर्ति का कहना है कि वालमार्ट समर्थित फ्लिपकार्ट ने सेल के 6 दिनों के दौरान 73% मार्केट शेयर पर कब्जा किया। बता दें कि अमेजन और फ्लिपकार्ट ने 29 सितंबर से लेकर 4 अक्टूबर तक फेस्टिव सीजन सेल का ऐलान किया था।

माना जा रहा है कि ईएमआई की सुविधा, विभिन्न बैंक ऑफर्स और दूर-दराज इलाकों में पहुंच के चलते ई-कॉमर्स कंपनियों ने इतनी शानदार बिक्री को अंजाम दिया है। देश में रेगुलेटरी फ्रेमवर्क में बदलाव और अर्थव्यवस्था में मंदी के चलते ई-कॉमर्स कंपनियों की वित्तीय वर्ष के पहले हाफ में बिक्री काफी कम रही थी। ऐसे में इन कंपनियों के लिए यह त्योहारी सीजन काफी अहम है।

Next Stories
1 कर्ज में दबा Emami Cement बिकने को तैयार, 6000 करोड़ खर्च करने को तैयार देसी और विदेशी कंपनियां!
2 ASHOK LEYLAND पर मंदी की मार! देश भर के कारखानों में 2-15 दिनों तक बंद रखेगा गाड़ियों का प्रोडक्शन
3 7th Pay Commission: नरेंद्र मोदी सरकार से इन्हें खुशखबरी, बढ़कर मिलेगी सैलरी!
ये पढ़ा क्या?
X