ताज़ा खबर
 

अरबपति जैक मा पर चीन सरकार का जुर्माना, फिर भी दौलत में उछाल

बीते दिनों चीन सरकार की ओर से जुर्माना लगाए जाने के बाद जैक मा की दौलत करीब 2 बिलियन डॉलर बढ़ चुकी है।

jack ma, china, china richest personजैक मा (Photo-Indian Express )

चीन के अरबपति जैक मा को सरकार की आलोचना भारी पड़ रही है। बीते साल जैक मा रहस्यमयी तरीके से गायब हो गए और अब चीन की सरकार ने जुर्माना भी लगा दिया है। हालांकि, इसके बावजूद जैक मा की दौलत में इजाफा हुआ है। आइए जानते हैं इसकी वजह..

कितनी है दौलत: बीते दिनों चीन सरकार की ओर से जुर्माना लगाए जाने के बाद जैक मा की दौलत करीब 2 बिलियन डॉलर बढ़ चुकी है। बीते सप्ताह जैक मा की संपत्ति 49 बिलियन डॉलर के करीब थी, जो अब बढ़कर 51 बिलियन डॉलर को पार कर चुकी है। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक जैक मा की 51.5 बिलियन डॉलर दौलत है। (ये पढ़ें—अनिल अंबानी का कारोबार चला रहे अडानी)

आपको बता दें कि अलीबाबा ग्रुप पर चीन के नियामकों ने प्रतिस्पर्धा रोधी व्यवहार के लिए 18.3 अरब युआन (2.8 अरब डॉलर) का जुर्माना लगाया है। यह जुर्माना 2019 में कंपनी की कुल 455.71 अरब युआन या 69.5 अरब डॉलर की बिक्री के चार प्रतिशत के बराबर है।

रहस्यमयी तरीके से हो गए थे गायब: अक्टूबर 2020 में जैक मा ने चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग की सार्वजनिक तौर पर आलोचना की थी। इसके बाद से ही जैक मा रहस्यमयी तरीके से कई महीने गायब रहे। मीडिया में जब खबरें आईं तो वह जनवरी में सार्वजनिक तौर पर नजर आए। आपको बता दें कि बीते साल मार्च तक जैक मा एशिया के सबसे दौलतमंद शख्स थे लेकिन इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुकेश अंबानी ने जैक मा को पछाड़ दिया।

चीन सरकार कर चुकी है ये कार्रवाई: बीते साल चीन की सरकार ने अलीबाबा ग्रुप के खिलाफ एकाधिकार-रोधी जांच शुरू करने की घोषणा की कर दी। यही नहीं, नवंबर 2020 में चीनी अधिकारियों ने जैक को जोरदार झटका देते हुए उनके एंट ग्रुप के 37 अरब डॉलर के IPO को निलंबित कर दिया था। वॉल स्‍ट्रीट जनरल के मुताबिक आईपीओ को रद्द करने का आदेश सीधा चीनी राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग की ओर से आया था। (ये पढ़ें—मित्तल और अंबानी की कंपनी के बीच हुई डील!)

अलीबाबा के बारे में: जैक मा की कंपनी अलीबाबा कोचीन के टेक इंडस्ट्री के जनक के रूप में देखा जाता है। अकेले चीन में अलीबाबा के 800 मिलियन यूज़र्स हैं और वो इस इंडस्ट्री का सबसे बड़ा नाम है।

Next Stories
1 ब्रिटेन की कंपनी का कलेवर बदलेंगे मुकेश अंबानी, 2019 में रिलायंस ने किया था अधिग्रहण
2 पतंजलि ही नहीं, इस कंपनी को भी संभाल रहे रामदेव के भाई, ​जानिए कितनी है सैलरी
3 एयरटेल के चेयरमैन सुनील मित्तल का Jio पर निशाना, बाजार में निवेशकों ने दिया ये रिएक्शन
ये पढ़ा क्या?
X