ताज़ा खबर
 

एयरएशिया के कर्मचारियों की बढ़ी संख्या, अब विदेश तक उड़ान भरेगी एयरलाइंस

बजट एयरलाइंस एयर एशिया इंडिया ने पिछले एक साल के दौरान अपने कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत बढ़ाकर 1,050 कर दी है। एयरलाइन अब अपनी हवाई सेवाओं का विस्तार विदेशों तक करना चाहती है।

Author नई दिल्ली | March 2, 2017 10:23 PM
बजट एयरलाइंस एयर एशिया इंडिया ने पिछले एक साल के दौरान अपने कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत बढ़ाकर 1,050 कर दी है। एयरलाइन अब अपनी हवाई सेवाओं का विस्तार विदेशों तक करना चाहती है।

बजट एयरलाइंस एयर एशिया इंडिया ने पिछले एक साल के दौरान अपने कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत बढ़ाकर 1,050 कर दी है। एयरलाइन अब अपनी हवाई सेवाओं का विस्तार विदेशों तक करना चाहती है। एयर एशिया इंडिया के सीईओ और प्रबंध निदेशक अमर अब्रोल ने यहां अनौपचारिक बातचीत के दौरान कहा कि मौजूदा कार्यबल एयरलाइंस की न केवल वर्तमान जरूरतों के लिये है बल्कि यह भविष्य की मांग को भी पूरा करेगा।

अब्रोल ने कहा, ‘‘हम (मार्च 2016 के बाद से) 650 से बढ़कर 1,050 हो गये हैं। केबिन क्रू और इंजीनियर के लिहाज से 12 विमानों का संचालन इससे कवर होता है और पायलट की दृष्टि से 10 से 11 विमानों के संचालन को ये कवर करते हैं।’ एयर एशिया इंडिया टाटा संस और मलेशियाई एयरलाइन समूह एयर एशिया के बीच एक संयुक्त उद्यम है। कंपनी के पास इस समय आठ एयरबस-320 को बेड़ा है। एयरलाइंस प्रतिदिन 13 घरेलू हवाईअड्डों के लिये 58 उड़ानों का संचालन करती है। दिल्ली और बेंगलूरू उसके दो मुख्य आधार हैं।
अब्रोल ने कहा कि इस कैलेंडर वर्ष में कंपनी छह और विमान अपने बेड़े में शामिल करेगी जबकि अगले साल के मध्य तक छह और विमान जोड़े जायेंगे। जैसे ही एयरलाइंस के बेड़े में 20 विमान हो जायेंगे यह विदेशों के लिये उड़ान भरने के योग्य हो जायेगी।

कुछ दिन पहले से ही एयरलाइंस कंपनी एयर एशिया ने ग्राहकों को आकर्षित करने में जुटी हुई है। जहां कंपनी ने आज यानी 17 जनवरी 2017 को काफी सस्ते दामों पर हवाई यात्रा कराने का ऑफर दिया था। वह 15 जनवरी 2017 को भी कंपनी ने फ्लाइट्स के सबसे सस्ते दामों की घोषणा की थी। कंपनी ने वनवे हवाई यात्रा के दाम 100 रुपये से भी कम पर कर दिए हैं, लेकिन इसमें कुछ टर्म्स एंड कंडिशन्स भी हैं। इस ऑफर के तहत जिन लोगों 16 जनवरी से 22 जनवरी के बीच टिकट बुकिंग की थी वे यह मई 2017 से 6 फरवरी 2018 के बीच की यात्राओं तक अपना लाभ उठा सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App