ताज़ा खबर
 

बिकने से पहले अपनी संपत्तियां बेच देना चाहती है Air India, 300 करोड़ रुपये जुटाने की योजना

एयर इंडिया देश के विभिन्न हिस्सों में अपनी कॉमर्शियल और रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी बेचने वाली है। इसके जरिए एयर इंडिया 200 से 300 करोड़ रुपये जुटाने पर विचार कर रही है।

एयर इंडिया 300 करोड़ रुपये जुटाने पर विचार कर रही है।

विनिवेश के रास्ते पर आगे बढ़ रही सरकारी एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया देश के विभिन्न हिस्सों में अपनी कॉमर्शियल और रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी बेचने वाली है। इसके जरिए एयर इंडिया 200 से 300 करोड़ रुपये जुटाने पर विचार कर रही है।

कौन सी संपत्तियों की होगी बिक्री: दरअसल, एयर इंडिया ने संपत्तियों के लिए बोली मंगाई है, जिसमे उसके फ्लैट और प्लॉट भी शामिल हैं। कंपनी की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक एयर इंडिया ने एमएसटीसी के जरिये देशभर में मौजूद अपनी संपत्तियों को बेचने के लिए ई-नीलामी बोलियां आमंत्रित की है। इसमें एक रेजिडेंशियल प्लॉट और मुंबई में एक फ्लैट, नई दिल्ली में पांच फ्लैट, बेंगलुरु में एक रेजिडेंशियल प्लॉट और कोलकाता में चार फ्लैट हैं, जिन्हें बिक्री पर रखा गया है।

सूचना के अनुसार बिक्री के लिए औरंगाबाद में एक बुकिंग कार्यालय और स्टाफ क्वार्टर, भुज में एयरलाइन हाउस के साथ एक रेजिडेंशियल प्लॉट, नासिक में छह फ्लैट, नागपुर में बुकिंग कार्यालय और तिरुवनंतपुरम में एक रेजिडेंशियल प्लॉट और मंगलुरु में दो फ्लैट शामिल हैं।

बोलियां 8 जुलाई को खुलेंगी: एक सीनियर अधिकारी ने बताया, ‘‘हमें उम्मीद है कि इन संपत्तियों की नीलामी से एयर इंडिया एसेट्स होल्डिंग लिमिटेड (एआईएएचएल) को करीब 200-300 करोड़ रुपये मिलेंगे। बोलियां 8 जुलाई को खुलेंगी और 9 जुलाई को बंद होंगी।’’ बता दें कि केंद्र सरकार, घाटे में चल रही एयर इंडिया के विनिवेश के लिए अंतिम रूपरेखा तय करने की प्रक्रिया में है।

ये माना जा रहा है कि इस साल के अंत तक एयर इंडिया की बिक्री हो जाएगी। इसे खरीदने वालों की रेस में सबसे आगे टाटा समूह है। अगर टाटा समूह बाजी मार लेती है तो दूसरी बार होगा जब एयर इंडिया की कमान टाटा के पास होगा।

बता दें कि एयर इंडिया को टाटा ग्रुप ने ही साल 1932 में शुरू किया था। बाद में 1953 में इसे सरकार को बेच दिया गया। इस समय एयर इंडिया पर 90 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का कर्ज है। ये कर्ज आगे भी बढ़ने की आशंका है।

Next Stories
1 नुकसान की खबरों के बीच अडानी ग्रुप की नई तैयारी, महाराष्ट्र के लिए बनाया प्लान
2 IDBI इस कंपनी में बेचेगी अपनी हिस्सेदारी, 5 साल बाद बैंक को हुआ है मुनाफा
3 विप्रो ने साल में दूसरी बार 80 फीसदी कर्मचारियों की सैलरी में किया इजाफा
ये पढ़ा क्या?
X