अब बिटकॉइन भी बेच रही है फ्लिपकार्ट को खरीदने वाली वॉलमार्ट, कई स्टोर पर लगे क्रिप्टो एटीएम

वॉलमार्ट ने कई स्टोर पर विशेष एटीएम लगाया है, जिससे ग्राहक बिटकॉइन खरीद सकते हैं। इसकी जानकारी सामने आते ही बिटकॉइन 66 हजार डॉलर के स्तर पर पहुंच गया।

Wallmart Bitcoin
वॉलमार्ट के करीब 200 स्टोर पर ग्राहक बिटकॉइन खरीद सकते हैं। (PTI Photo)

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) की स्वीकार्यता दिनों दिन बढ़ती जा रही है। सरकारों के समर्थन के बिना भी क्रिप्टोकरेंसी का चलन बढ़ रहा है। एलन मस्क (Elon Musk) की टेस्ला (Tesla) और जेफ बेजोस (Jeff Bezos) की अमेजन (Amazon) जैसी कंपनियों ने इनकी स्वीकार्यता बढ़ाई है। अब इस कड़ी में रिटेल सेक्टर की दिग्गज कंपनी वॉलमार्ट (Wallmart) का भी नाम जुड़ गया है। कुछ समय पहले फ्लिपकार्ट (Flipkart) को खरीदने वाली इस कंपनी ने अपने कई स्टोर पर बिटकॉइन (Bitcoin) खरीदने वालों के लिए एटीएम जैसी मशीन की सुविधा दी है।

66 हजार डॉलर पर Bitcoin

वॉलमार्ट इंक ने एक दिन पहले बयान जारी कर इसकी जानकारी दी। कंपनी ने बताया कि अभी इसकी शुरुआत अमेरिका के कुछ स्टोर से की गई है। बाद में इसका विस्तार अन्य बाजारों में किया जा सकता है। यह जानकारी सामने आते ही बिटकॉइन की कीमतें उछल गईं। अभी बिटकॉइन करीब 66000 डॉलर के सर्वकालिक रिकॉर्ड उच्च स्तर पर है।

Wallmart के 200 स्टोर में लगे बिटकॉइन एटीएम

वॉलमार्ट ने बताया कि उसके करीब 200 स्टोर में कॉइनस्टार (Coinstar) के एटीएम जैसी मशीनें लगाई गई हैं। इन मशीनों से ग्राहक बिटकॉइन खरीद सकते हैं। कॉइनस्टार ने ग्राहकों को यह सुविधा देने के लिए डिजिटल करेंसी एक्सचेंज कॉइनमी (CoinMe) के साथ साझेदारी की है।

लाइटकॉइन से जुड़ चुका है वॉलमार्ट का नाम

वॉलमार्ट इससे पहले भी क्रिप्टोकरेंसी को लेकर चर्चा में रह चुकी है। इस महीने की शुरुआत में एक फेक प्रेस रिलीज जारी कर दिया गया था, जिसमें कहा गया था कि वॉलमार्ट और लाइटकॉइन (Litecoin) के बीच साझेदारी होने वाली है। इस फेक प्रेस रिलीज के जारी होने के बाद लाइटकॉइन में करीब 30 प्रतिशत की तेजी आ गई थी। उसमें कहा गया था कि वॉलमार्ट ऑनलाइन शॉपिंग के लिए लाइटकॉइन को एक्सेप्ट करेगी। हालांकि वॉलमार्ट ने मामले के प्रकाश में आते ही इसका खंडन किया था।

ये कंपनियां करती हैं क्रिप्टोकरेंसी को एक्सेप्ट

आपको बता दें कि पहले से कई कंपनियां क्रिप्टोकरेंसी को पेमेंट के रूप में स्वीकार कर रही है। इनमें सबसे प्रमुख नाम एलन मस्क की इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला का है। टेस्ला इलेक्ट्रिक कार के खरीदारों से पेमेंट के रूप में बिटकॉइन एक्सेप्ट करती है। बीच में पर्यावरण संबंधी कुछ कारणों से टेस्ला ने इसे बंद भी किया था, लेकिन कंपनी ने फिर से क्रिप्टोकरेंसी को पेमेंट के रूप में एक्सेप्ट करना शुरू कर दिया है।

इसे भी पढ़ें: इस क्रिप्टोकरेंसी ने दो महीने में हजार रुपये के बना दिए 34 लाख, एलन मस्क के कुत्ते पर रखा गया है नाम

अमेजन और फेसबुक भी रेस में शामिल

दुनिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति जेफ बेजोस की कंपनी अमेजन भी क्रिप्टो मार्केट में उतरने की तैयारी में है। इन कयासों को पिछले महीने उस समय ठोस आधार मिला, जब अमेजन ने डिजिटल करेंसी एंड ब्लॉकचेन प्रोडक्ट लीड (Digital Currency and Blockchain Product Lead) की वैकेंसी साइट पर लिस्ट की। इसके बाद बाजार अनुमान लगा रहा है कि अमेजन अपनी क्रिप्टोकरेंसी लांच कर सकती है। मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) की फेसबुक (Facebook) पहले ही क्रिप्टोकरेंसी दिएम (Diem) लाने की घोषणा कर चुकी है। पहले इसका नाम लिब्रा (Libra) रखा गया था।

पढें व्यापार समाचार (Business News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
भारत-चीन के बीच बेहतर व्यापार संबंधों के लिए समझौता, 20 अरब डॉलर निवेश होगा
अपडेट