ताज़ा खबर
 

विशाल सिक्का के इस्तीफे के बाद नारायण मूर्ति ने कहा- ऐसे आरोपों का जवाब देना मेरे सम्मान के खिलाफ

विशाल सिक्का नए स्थायी मैनेजिंग डायरेक्टर तथा सीईओ के पदभार ग्रहण करने तक इन्फोसिस के एक्ज़ीक्यूटिव वाइस-चेयरमैन पद पर बने रहेंगे।

Vishal Sikka Reuters Photoइन्फोसिस के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने विशाल सिक्का के इस्तीफे को तत्काल प्रभाव से मंज़ूर कर लिया है। (Reuters Photo)

विशाल सिक्का के इन्फोसिस के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर के पद से इस्तीफा देने के बाद कंपनी के शेयरों में 13 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की गई। सिक्का के इस्तीफे के बाद कंपनी की मार्केट वेल्यू में 30,000 करोड़ रुपये कम हो गई। इन्फोसिस के संस्थापक और पूर्व चेयरमैन एनआर नारायण मूर्ति ने कहा कि मैं इंफोसिस बोर्ड द्वारा लगाये गये आरोपों और उसकी भाषा से व्यथित हूं, ऐसे निराधार आरोपों का जवाब देना मैं अपने सम्मान के खिलाफ मानता हूं। मैं कंपनी बोर्ड की ओर से लगाए गए सारे आरोपों का सही समय पर, सही फोरम में, सही जवाब देंगे।

विशाल सिक्का नए स्थायी मैनेजिंग डायरेक्टर तथा सीईओ के पदभार ग्रहण करने तक इन्फोसिस के एक्ज़ीक्यूटिव वाइस-चेयरमैन पद पर बने रहेंगे। यह नियुक्ति 31 मार्च, 2018 से पहले कर दी जाएगी। बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने विशाल सिक्का के इस्तीफे को तत्काल प्रभाव से मंजूर कर लिया है। कंपनी ने चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर यूपी प्रवीण राव को अंतरिम मैनेजिंग डायरेक्टर तथा सीईओ नियुक्त किया है। इन्फोसिस के शेयर पिछले 52 सप्ताह में यह आज (18 अगस्त) अपने सबसे निचले स्तर पर थे। 13 फीसदी की गिरावट के साथ इन्फोसिस के शेयर की कीमत बीएसई में 884.40 रुपये तक आ गई थी। वहीं स्टॉक क्लोजिंग के समय इन्फोसिस के शेयर 9.6 फीसदी की गिरावट के साथ 923.10 रुपये पर बंद हुए। यह शेयर 17 अगस्त को 1,021.15 रुपये पर बंद हुए थे।

इंफोसिस ने विशाल सिक्का को 1 अगस्त 2014 को सीईओ बनाया था। 2015-16 में उन्हें करीब 50 करोड़ रुपये का पैकेज मिला था। साल 2016 में उनका पैकेज 74 करोड़ रुपये कर दिया गया था। विशाल सिक्का ने ‘व्यक्तिगत’ हमलों को इस्तीफे का एक कारण बताया है। उन्होंने कहा कि ” पिछले 3 से ज्यादा सालों में हमनें काफी कुछ हासिल किया है। इसके लिए हमें गर्व भी होना चाहिए। लेकिन पिछले कुछ महीनों में तेजी से हमारे ऊपर गलत, बेबुनियाद और व्यक्तिगत हमले किए जा रहे हैं। ये सभी आरोप लगातार गलत साबित हुए हैं। इसके बाद भी हमले जारी रखे गए।

विशाल सिक्का ने अपने ट्विटर एकाउंट पर भी इस्तीफे से सिर्फ तीन मिनट पहले (सुबह 9:57 बजे) लिखा, ‘आगे बढ़ रहा हूं…’ इस ट्वीट के साथ ही उन्होंने अपने निजी ब्लॉग का लिंक भी दिया है, जहां उन्होंने कंपनी के कर्मचारियों को भेजे अपने खत की प्रति प्रकाशित की है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यहां पढ़िए, इंफोसिस को दिए इस्तीफे में विशाल सिक्का ने क्या लिखा
2 विशाल सिक्का ने Infosys के एमडी और सीईओ पद से दिया इस्तीफा, कंपनी के शेयर गिरे
3 81 लाख आधार नंबर हो गए हैं ड‍िएक्‍टि‍वेट, आपका है या नहीं, ऐसे करें पता
ये पढ़ा क्या...
X