scorecardresearch

Adani के इस शेयर ने 4 माह से भी कम समय में दिया करीब 177 फीसद रिटर्न, अगर खरीदा है तो जानें- अभी क्‍या करें?

इस शेयर में कभी लोवर सर्किट तो कभी अपर सर्किट बना हुआ है। कंपनी के मार्केट कैप में भी तेजी से गिरावट आई है। हालाकि निवेशकों को करीब 3 महीने 15 दिनों में 177 फीसद का रिटर्न मिल चुका है।

Adani Wilmar | Adani Wilmar Stock Price
Adani Wilmar ने 28 फरवरी को सबसे उच्‍च प्राइज पर पहुंचा था। (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

अडानी ग्रुप के शेयरों ने निवेशकों को मल्‍टीबैगर स्‍टॉक दिए हैं, जिसमें निवेशकों को जबरदस्‍त लाभ हुआ है। वहीं जब से अडानी ग्रुप की सीमेंट कंपनियों से डील हुई है, तब से इसके शेयर में उछाल देखा जा रहा है। ब्रॉन्डेड एडिबल ऑयल और पैकेज्ड फूड बनाने वाली कंपनी Adani Wilmar के शेयरों में बुधवार को भी 5 फीसदी का अपर सर्किट लगा।

इस उछाल के साथ शेयर 636.55 रुपये पर पहुंच गया, जो 17 मई को 606 रुपये पर था। हालांकि यह रिकॉर्ड हाई 878 रुपये से अभी भी 28 फीसदी कम चल रहा है। 28 अप्रैल के बाद से ही इसके शेयरों में भारी उतार चढ़ाव देखा गया है। इस शेयर में कभी लोवर सर्किट तो कभी अपर सर्किट बना हुआ है। कंपनी के मार्केट कैप में भी तेजी से गिरावट आई है। हालाकि निवेशकों को करीब 3 महीने 15 दिनों में 177 फीसद का रिटर्न मिल चुका है।

निवेशकों को हुआ जबरदस्‍त लाभ
अडानी विल्‍मर के शेयरों की लिस्‍टिंग इसी साल 8 फरवरी को हुई थी। कंपनी ने आईपीओ के लिए स्टॉक प्राइस 230 रुपये तय किया था, जबकि BSE पर यह 221 रुपये के भाव पर लिस्ट हुआ है। इसके शेयर 28 अप्रैल 2022 को यह शेयर 878 रुपये के भाव पर पहुंच गया, जो शेयर के लिए रिकॉर्ड हाई है। इस दौरान निवेशकों को 282 फीसदी तक रिटर्न मिला था। हालाकि अभी कंपनी का मार्केट कैप 1 लाख करोड़ से घटकर 83 हजार करोड़ से कम रह गया है और आज के उछाल के बाद 636.55 रुपये प्रति शेयर हो गया है।

अभी क्‍या करना चाहिए
एक्‍सपर्ट ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज के अनुसार, अभी जो भी शेयर आपके पास है, उसमें बने रहने की जरूरत है। ब्रोकरेज का कहना है कि ब्रॉन्डेड एडिबल ऑयल और पैकेज्ड फूड में Adani Wilmar मजबूत मार्केट लीडर कंपनी है। कंपनी के पास ‘Fortune’ जैसे कई मजबूत ब्रॉड हैं, जो कंपनी के वैल्‍यू को बढ़ाएंगी। आने वाले वित्त वर्ष में अडानी विल्‍मर निवेशकों को और अधिक मुनाफा दे सकता है।

गौरतलब है कि अडानी ग्रुप की एसीसी और अंबुजा सीमेंट कंपनियों से डील होने के बाद एक मीडिया कंपनी की 49 फीसद हिस्‍सेदारी खरीद ली गई है। जिसके बाद से इसके सभी शेयरों में तेजी देखी जा रही है। एक्‍सपर्ट का मानना है कि अडानी के शेयर आने वाले दिनों में निवेशकों को अधिक रिटर्न दे सकते हैं।

पढें व्यापार (Business News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट