scorecardresearch

अडाणी ग्रुप ने दक्षिण कोरियाई कंपनी के साथ की बड़ी डील, 5 अरब डॉलर तक का हो सकता है निवेश

अडाणी समूह के अध्यक्ष गौतम अडाणी ने कहा, “यह साझेदारी भारत के विनिर्माण उद्योग के विकास में तथा भारत सरकार की महत्वाकांक्षी आत्मनिर्भर भारत योजना में योगदान देगी। यह हरित उद्यमों में भारत की स्थिति को मजबूत करने में भी मददगार होगी।”

Gautam Adani, Adani Group, Yogi Government
उद्योगपति गौतम अडानी(फोटो सोर्स: PTI/फाइल)।

उद्योगपति गौतम अडाणी की अगुवाई वाले अडाणी समूह ने इस्पात, नवीकरणीय ऊर्जा समेत अन्य क्षेत्रों में कारोबारी अवसर तलाशने के लिए दक्षिण कोरियाई कंपनी पॉस्को के साथ समझौता किया है। दोनों कंपनियों ने इस लिहाज से समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर दस्तखत किए। अडाणी समूह ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा कि एमओयू के तहत पांच अरब डॉलर तक का निवेश किया जा सकता है।

समूह ने कहा कि उसने “गुजरात के मुंद्रा में हरित, पर्यावरण-अनुकूल एकीकृत इस्पात कारखाने की स्थापना और अन्य उद्यमों समेत व्यावसायिक सहयोग के अवसर तलाशने की सहमति जताई है। पांच अरब डॉलर तक का निवेश होने की संभावना है।” दोनों पक्ष प्रत्येक कंपनी की तकनीकी, वित्तीय और परिचालन संबंधी मजबूती से लाभ उठाने और सहयोग करने के अनेक विकल्पों का अध्ययन कर रहे हैं।

पॉस्को के सीईओ जियोंग-वू चोई ने कहा कि उनकी कंपनी की इस्पात विनिर्माण में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी तथा ऊर्जा एवं अवसंरचना में अडाणी समूह की विशेषज्ञता के साथ दोनों कंपनियां इस्पात एवं पर्यावरण-अनुकूल कारोबार में परस्पर सहयोग के साथ काम कर सकेंगी। उन्होंने कहा, “मुझे उम्मीद है कि यह सहयोग भारत और दक्षिण कोरिया के बीच एक अच्छा और टिकाऊ उद्यम सहयोग मॉडल बनेगा।”

अडाणी समूह के अध्यक्ष गौतम अडाणी ने कहा, “यह साझेदारी भारत के विनिर्माण उद्योग के विकास में तथा भारत सरकार की महत्वाकांक्षी आत्मनिर्भर भारत योजना में योगदान देगी। यह हरित उद्यमों में भारत की स्थिति को मजबूत करने में भी मददगार होगी।” पॉस्को और अडाणी ने सरकार के स्तर पर सहयोग और समर्थन के लिए गुजरात सरकार के साथ भी एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं।

फिलहाल ग्रुप मार्केट कैप के आधार पर अडानी समूह के अध्यक्ष और संस्थापक गौतम अडानी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के अध्यक्ष मुकेश अंबानी को पछाड़ते हुए एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अडानी ग्रुप का मार्केट कैप रिलायंस से अधिक हो गया है। 

इसके पहले, ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक, गौतम अडानी की कुल संपत्ति करीब 88.8 बिलियन डॉलर थी। जबकि मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति 91 बिलियन डॉलर थी। सालाना आधार पर गौतम अडानी की संपत्ति में 55 अरब डॉलर का इजाफा हुआ जबकि, मुकेश अंबानी ने अपनी संपत्ति में 14.3 अरब डॉलर जोड़े।

रिपोर्ट्स में कहा गया है कि अडानी ग्रुप का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ के ऊपर चला गया है और रिलायंस का मार्केट कैप करीब 15 लाख करोड़ का है। लेकिन कल के क्लोजिंग प्राइस के आधार पर और अडानी का ग्रुप में प्रमोटर स्टेक अधिक होने के कारण आज इंट्राडे बेसिस पर गौतम अडानी ने मुकेश अंबानी को पीछे छोड़ दिया। वहीं, मुकेश अंबानी लंबे समय से एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने हुए थे। लेकिन गौतम अडानी उनको झटका देते हुए अमीर व्यक्तियों की लिस्ट में पहले स्थान पर काबिज हो गए हैं।

पढें व्यापार (Business News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट