ताज़ा खबर
 

आरोग्य सेतु ऐप पर पीएमओ में 5 मरीज- ‘हैकर’ ने किया दावा, कहा- राहुल गांधी ने सही थे, नौ करोड़ लोगों की प्राइवेसी खतरे में

Aarogya Setu App security issue: कोरोना वायरस के संक्रमण की देश भर में ट्रैकिंग और अपडेट के लिए बने 'आरोग्य सेतु' ऐप के डेटा के लीक होने के खतरे को लेकर नए सिरे से बहस छिड़ गई है।

aarogya setu appaarogya setu app: आरोग्य सेतु ऐप से खतरे में 9 करोड़ लोगों की सुरक्षा

Aarogya Setu App security issue: कोरोना वायरस के संक्रमण की देश भर में ट्रैकिंग और अपडेट के लिए बने ‘आरोग्य सेतु’ ऐप (Aarogya Setu App) के डेटा के लीक होने के खतरे को लेकर नए सिरे से बहस छिड़ गई है। दरअसल एक एथिकल हैकर ने इस ऐप को हैक करने का दावा किया था। ट्विटर पर खुद को साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट और एथिकल हैकर बताने वाले इलियट एल्डर्सन ने बुधवार को दावा किया कि पीएमओ में 5 लोगों की तबीयत खराब है। हैकर का दावा था कि आरोग्य सेतु ऐप से डेटा लीक होने का खतरा है और भारतीयों की प्राइवेसी के लिहाज से यह ठीक नहीं है। इससे पहले मंगलवार को इलियट ने दावा किया था कि इस ऐप के चलते भारत के 9 करोड़ लोगों की गोपनीयता दांव पर है।

हालांकि सरकार ने इस दावे का खंडन करते हुए कहा है कि ऐप में डेटा या सुरक्षा के उल्लंघन जैसा कोई खतरा नहीं है। सरकार के मुताबिक किसी भी उपयोगकर्ता की कोई भी व्यक्तिगत जानकारी इस ऐप के कारण खतरे में साबित नहीं हुई है। हैकर ने मंगलवार को यह दावा भी किया था कि भारत सरकार की ओर से उससे बातचीत की गई है। इंडियन कंप्‍यूटर इमरजेंसी रिस्‍पांस टीम और नेशनल इन्‍फोर्मेटिक्‍स सेंटर ने उनसे संपर्क किया था। हैकर ने उस समय चेतावनी भरे लहजे में सरकार से कहा था कि जब तक सुरक्षा मानकों की खामियों को ठीक नहीं किया जाता, वह इन्‍हें सार्वजनिक करना जारी रखेंगे।

हैकर ने कहा, राहुल गांधी सही थे: आरोग्य सेतु ऐप के डेटा के लीक होने का खतरा होने का दावा करने वाले ट्वीट में इलियट ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का भी जिक्र किया था। इलियट ने राहुल गांधी को ट्वीट में टैग करते हुए कहा था कि वह सही हैं। बता दें कि राहुल गांधी की ओर से आरोग्य सेतु ऐप के डेटा की सुरक्षा और भारतीय की प्राइवेसी के लीक होने के खतरे का सवाल उठाया था। इस पर केंद्रीय सूचना एवं तकनीकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी पर वार करते हुए कहा था कि कांग्रेस नेता हर दिन ‘एक नया झूठ’ बोलते हैं।

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अनिवार्य हुआ आरोग्य सेतु ऐप: अब तक 9 करोड़ से ज्यादा लोग आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड कर चुके हैं। इस ऐप के जरिए यूजर्स अपनी सेहत की डिटेल साझा करते हैं। इसके अलावा वह यह जान सकते हैं कि उनके पास में कितनी दूरी पर कितने मरीज मौजूद हैं। सरकार की ओर से केंद्रीय कर्मचारियों के लिए इस डेटा को डाउनलोड करना अनिवार्य कर दिया गया है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबाजानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिएइन तरीकों से संक्रमण से बचाएंक्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 थाली में नमक की भी पैदा हो सकती है कमी, लॉकडाउन में 40 दिन से ठप है उत्पादन, बारिश से पहले ही बंद हो जाएगा काम
2 HDFC से मारुति तक कंपनियां बोलीं, लॉकडाउन अब और नहीं, नौकरियां बचाना जरूरी, सीखना होगा कोरोना संग जीना
3 18 रुपये का पेट्रोल 71 रुपये में बेच रही सरकार, जानें- तेल का पूरा खेल, भारत में सबसे ज्यादा टैक्स
ये पढ़ा क्या?
X