ताज़ा खबर
 

सब्सिडी अनाज के लिए आधार कार्ड को ज़रूरी बनाने की तैयारी में सरकार

केन्द्र ने यह भी कहा कि राज्यों ने जून तक राशन की दुकानों में डिजिटल भुगतान प्रणाली को स्थापित करने का वादा किया है।

Author नई दिल्ली | January 19, 2017 8:01 PM
Union Consumer, Food and Public Distribution Minister, Ram Vilas Paswan, Consumer Protection Act, Consumer rights, Consumer rightsकेन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान। (image Source: PTI)

सरकार ने गुरुवार (19 जनवरी) को कहा कि उसकी राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के तहत सब्सिडीप्राप्त खाद्यान्न के लिए आधार कार्ड को आवश्यक बनाने की योजना है। सरकार ने राज्यों से कहा कि वे आधार कार्ड को राशन कार्डो के साथ सम्बद्ध करें। हालांकि, इसे अनिवार्य नहीं किया जायेगा। केन्द्र ने यह भी कहा कि राज्यों ने जून तक राशन की दुकानों में डिजिटल भुगतान प्रणाली को स्थापित करने का वादा किया है। खाद्य कानून के तहत 80 करोड़ से अधिक लोगों को पांच किग्रा गेहूं अथवा चावल प्रति व्यक्ति प्रतिमाह दो से तीन रुपए प्रति किग्रा की दर से मिलता है जिससे राजकोष पर 1.4 लाख करोड़ रुपए वार्षिक का बोझ आता है।

नोटबंदी के बाद डिजिटल लेनदेन और कम नकदी अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहित करने के प्रयास के तहत खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने गुरुवार (19 जनवरी) को ‘पीडीएस सुधार एवं नकदीरहित: कम नकदी परिवेश’ विषय पर राज्यों के खाद्य मंत्रियों और सचिवों का एक राष्ट्रीय सम्मेलन की। पासवान ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘वर्तमान में करीब 5.27 लाख राशन की दुकानों में से करीब 29,000 उचित मूल्य दुकानों पर नकदी रहित लेनदेन की सुविधा है। हमें इस बात की खुशी है कि कई राज्यों में मार्च तक राशन की दुकानों में 100 फीसदी नकदी रहित प्रणाली हो जायेगी।’

उन्होंने कहा आंध्र प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान, तमिलनाडू, दिल्ली और महाराष्ट्र राज्यों ने अपनी राशन दुकानों पर मार्च तक डिजिटल भुगतान प्रणाली शुरू करने का वादा किया है। ‘ज्यादातर राज्यों में जून तक डिजिटल भुगतान प्रणाली शुरू हो जायेगी।’ पासवान ने बताया कि बिहार और उत्तराखंड ने जुलाई तक नकदीरहित प्रणाली स्थापित करने का वादा किया है जबकि अंडमान और नीकोबार और जम्मू कश्मीर ने वर्ष के अंत तक ऐसा करने का वादा किया है। नोटबंदी की आलोचना करने वाला पश्चिम बंगाल भी जून तक नकदीरहित व्यवस्था बहाल करने को सहमत हुआ है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 चांदी टूटकर ₹41550 पर, सोने की क़ीमत में ठहराव
2 नॉर्थ ब्लॉक में ‘हलवा रस्म’ के साथ बजट दस्तावेज़ों का प्रकाशन शुरू
3 जीएसटी: सरकार ने दी नियमों में ढील, दो करोड़ रुपए तक की टैक्स चोरी पर मिलेगी तुरंत ज़मानत
ये पढ़ा क्या?
X