ताज़ा खबर
 

7th Pay Commission: सर्विस रूल बदला, हजारों कर्मचारियों को मिलेगा सातवें वेतन आयोग का फायदा

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today 2018 in Hindi: अब केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचारियों की मांगों को मानते हुए सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों से परे 8,000 रुपए महीने की बढ़ोतरी कर सकती है।

सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बाद केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूतम सैलरी 18,000 रुपए हो गई है।

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today 2018 in Hindi: सातवें वेतन आयोग के लागू होने के बाद भी अभी हजारों केंद्रीय कर्मचारियों को इसका फायदा नहीं मिल पा रहा है। दरअसल इसमें पे मेट्रिक्स और पे बैंड को लेकर कुछ पेंच फंसा हुआ है। इसकी वजह से 20 हजार कर्मचारियों को इसका फायदा नहीं मिल पर रहा है। दरअसल पहले केंद्रीय कर्मचारियों को पे बैंड के हिसाब से सैलरी मिलती थी। अब सभी कर्मचारियों को पे मेट्रिक्स के हिसाब से सैलरी मिलेगी। ऐसा सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने के लिए किया गया है। अब डीओटीपी ने सर्विस रूल में बदलाव करके नए पे मैट्रिक्स के हिसाब से सबकुछ तय करने के लिए कहा है। ऐसा करने के लिए 30 अगस्त तक का समय दिया गया है। मतलब जिन केंद्रीय कर्मचारियों को अभी तक सातवें वेतन आयोग का फायदा नहीं मिल रहा है उन्हें भी 30 अगस्त के बाद सातवें वेतन आयोग का फायदा मिलने की उम्मीद है।

HOT DEALS

सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बाद केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूतम सैलरी 18,000 रुपए हो गई है। इसके अलावा फिटमेंट फेक्टर को भी 2.57 फीसदी कर दिया गया है। अब केंद्रीय कर्मचारियों की मांग है कि उनकी न्यूतम सैलरी को बढ़ाकर 26,000 रुपए महीने कर दिया जाए, वहीं फिटमेंट फेक्टर को भी बढ़ाकर 3.68 फीसदी कर दिया जाए।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अब केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचारियों की मांगों को मानते हुए सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों से परे 8,000 रुपए महीने की बढ़ोतरी कर सकती है। अगर यह बढ़ोतरी केंद्र सरकार कर देती है तो कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी 18,000 रुपए महीने से बढ़कर 26,000 रुपए महीने हो जाएगी। अब मोदी सरकार इस बढ़ी हुई सैलरी की घोषणा कर सकती है।

पीएम मोदी 15 अगस्त को इसकी घोषणा लाल किले से कर सकते हैं। कर्मचारियों को इस बार उम्मीद है कि सरकार 2019 के चुनाव को देखते हुए कोई ऐसा कदम नहीं उठाएगी, जिससे उसे 50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों के गुस्से का पात्र बनना पड़े।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App