ताज़ा खबर
 

7th Pay Commission: रेलवे ने सुधारी तीन साल पुरानी गलती, हजारों कर्मचारियों को अब मिलेगा बढ़ा हुआ वेतन और एरियर

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today 2019, 7th Pay Commission Latest Hindi News: चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर्स 2016 से पहले पहले से मंत्रालय से जुड़े हुए हैं। लेकिन फिर भी उनकी सैलरी कम थी रेलवे ने इसी खामी को दूर किया है

Author नई दिल्ली | Updated: August 19, 2019 7:42 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today 2019, 7th Pay Commission Latest Hindi News: रेल मंत्रालय ने अपने विभाग की एक खामी को संज्ञान में लेते हुए उस पर सुधार करने का फैसला लिया है। मंत्रालय के इस फैसले सेहजारों चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर्स को जबरदस्त फायदा होने वाला है। कर्मचारियों को अब बढ़ा हुआ वेतन और एरियर मिलेगा।

दरअसल मंत्रालय ने चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर्स और 1 जनवरी 2016 के बाद भर्ती हुए जूनियर अफसरों की सैलरी को लेकर असमानताएं थीं उन्हें दूर करने का आदेश जारी किया है। जी बिजनेस में छपी रिपोर्ट के मुताबिक 1 जनवरी 2016 के बाद भर्ती हुए जूनियर अफसर की सैलरी चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर्स से ज्यादा है।

Sarkari Naukri-Result 2019 LIVE Updates: Check Here

चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर्स 2016 से पहले पहले से मंत्रालय से जुड़े हुए हैं। लेकिन फिर भी उनकी सैलरी कम थी रेलवे ने इसी खामी को दूर किया है। सैलरी में यह विविधिता की वजह सातवें वेतन आयोग के तहत थी। दरअसल 7वें वेतन आयोग के तहत जूनियर स्‍टाफ को तो लाभ मिला रहा था लेकिन 1 जनवरी 2016 से पहले वालों को इसका लाभ नहीं मिल रहा था।  तीन साल पुरानी खामी को संज्ञान में लेते हुए मंत्रालय ने इसे दूर कर दिया है।

RRB NTPC Admit Card 2019 LIVE Updates: Check here

इस फैसले के बाद हजारों कर्मचारियों की सैलरी में अच्छी खासी बढ़ोतरी होना तय है। माना जा रहा है कि चीफ लोको इंस्‍पेक्‍टर्स पद पर तैनात कर्मचारियों की सैलरी में हजारों रुपए की बढ़ोतरी होगी। वहीं हजारों रुपए का एरियर भी मिलेगा।

मालूम हो कि इससे पहले रेलवे ने रेलवे वर्कशॉप और प्रोडक्शन यूनिट के कर्मचारियों का इंसेंटिव और बोनस दोगुना कर दिया था। यही नहीं कर्मचारियों को दो साल का एरियर भी देने का एलान किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories