ताज़ा खबर
 

7th Pay Commission: दो महीने में 50 लाख कर्मियों को सरकार दे सकती है डबल बेनिफिट, बढ़ जाएगी सैलरी

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today 2019, 7th Pay Commission Latest Hindi News: अगर ऐसा होता है तो इसका फायदा 50 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को होगा।

7th pay commission, 7th pay commission latest news, 7th pay commission latest news today 2019, 7th pay commission latest news in hindi, 7th cpc, 7th cpc latest news, 7th cpc latest news today, 7th pay commission latest news today 2019, 7th pay commission latest news in hindi 2019, 7th pay commission latest news 2019 today, Himachal Pradesh, Jansatta Online, Business News, National News, India News

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today 2019, 7th Pay Commission Latest Hindi News: सातवें वेतन आयोग के तहत लंबे समय से अपनी मांगों का इतंजार कर रहे केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार दो महीने के भीतर बड़ी खुशखबरी दे सकती है। त्योहारों से पहले कर्मचारियों की सबसे बड़ी मांग यानि की न्यूनतम सैलरी में बढ़ोतरी की जा सकती है। इसके अलावा अन्य मांगों पर भी सरकार मुहर लगा सकती है।

त्योहारी सीजन से पहले सरकार फिटमेंट फैक्टर और महंगाई भत्ते (डीए) में बढ़ोतरी कर सकती है।जानकारों के मुताबिक सरकार डीए में पांच फीसदी तक की बढ़ोतरी कर सकती है। वहीं फिटमेंट फैक्टर में बढ़ोतरी होते ही कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी में 8,000 रुपए का फायदा होगा। सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने से कर्मचारियों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार हुआ है। हालांकि कर्मचारियों की मांग है कि फिटमेंट फैक्टर को 2.57 से बढ़ाकर 3.68 फीसदी किया जाए।

RRB NTPC Exam Admit Card 2019: check  LIVE Updates here

अगर ऐसा होता है तो इसका फायदा 50 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को होगा। वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत केंद्र सरकार के कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी प्रति माह 26 हजार रुपए किए जाने की मांग कर रहे हैं। मौजूदा समय में कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी 18 हजार रुपए है।

Sarkari Naukri-Result 2019 Live Updates: Check Here

मालूम हो केंद्र सरकार के 50 लाख कर्मचारी सातवें वेतन आयोगी की सिफारिशों पर लंबे समय से सुधार की मांग कर रहे हैं। इससे पहले सरकार कई बार इन मांगों को टाल चुकी है। बता दें कि वेतन आयोग एक ऐसी प्रशासनिक प्रणाली है जो सरकारी कर्मचारियों के वेतन का निर्धारण करने के लिए भारत सरकार द्वारा स्थापित की जाती है। वेतन आयोग मशविरा करता है और फिर उसी पर सरकार को अपनी सिफारिशें देता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अब सरकारी उपक्रम भी जबर्दस्त नकदी संकट में! BHEL, SAIL, HAL में लीव इनकैशमेंट पर रोक, BSNL करेगा सैलरी में कटौती
2 आर्थिक मंदी: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की चार दिन के भीतर दूसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस, बोलीं- पटरी पर आ रही अर्थव्यवस्था
3 फर्जीवाड़ा: भूषण स्टील के पूर्व प्रमोटर्स ने अवैध ढंग से बैंक से हासिल किया 46 हजार करोड़ का लोन!
ये पढ़ा क्या...
X