ताज़ा खबर
 

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफा, मोदी सरकार ने इतनी बढ़ाई सैलरी

7th Pay Commission, 7th CPC Daily Allowances Latest News Today 2018: देशभर में 48 लाख से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारी और 61 लाख से ज्यादा पेंशनर्स हैं। अगर महंगाई भत्ते में बढोतरी होती है तो इन सभी को सीधा फायदा होगा।

7th pay commission: यह बढ़ोतरी 7वें वेतन आयोग में तय किए गए फार्मूले के तहत की गई है।

7th Pay Commission, 7th CPC Daily Allowances Latest News Today 2018: मोदी सराकर ने आज केंद्रीय कर्माचारियों को महंगाई भत्ते में दो फीसद की बढ़ोतरी का तोहफा दे दिया है। केंद्रीय कैबिनेट में इस पर फैसला लिया गया है। यह बढ़ोतरी 7वें वेतन आयोग में तय किए गए फार्मूले के तहत की गई है। सूत्रों के मुताबिक यह बढ़ोतरी 1 जुलाई से लागू होगी। देशभर में 48 लाख से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारी और 61 लाख से ज्यादा पेंशनर्स हैं।

अगर महंगाई भत्ते में बढोतरी होती है तो इन सभी को सीधा फायदा होगा। फिलहाल कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 7 फीसदी था जो बढ़कर 9 फीसदी हो गया है। 12 सितंबर 2017 को सरकार ने कर्मचारियों तथा पेंशनभोगियों का महंगाई भत्ता एक प्रतिशत बढ़ाया था। महंगाई भत्ता वह अलाउंस होता है, जो सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को दिया जाता है। ये भत्ता महंगाई और कर्मचारियों की बेसिक सैलरी के आधार पर तय किया जाता है।

एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई है कि डीए और डीआर में वृद्धि से सरकारी खजाने पर सालाना 6,112.20 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा। वित्त वर्ष 2018-19 के आठ महीनों (जुलाई, 2018 से फरवरी, 2019) के दौरान 4,074.80 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा। यह बढ़ोतरी एक जुलाई, 2018 से लागू होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में 29 अगस्त को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला लिया गया।

इसी साल मार्च में इसकी घोषणा की गई थी। ये बढ़ी हुई दरें जनवरी से लागू हुई थीं। महंगाई भत्ता या डियरनेस अलाउंस वह अलाउंस होता है, जो सरकारी कर्मचारियों, पब्ल‍िक सेक्टर इम्प्लॉइज और पेंशनरों को दिया जाता है। इसकी गणना कर्मचारी की बेसिक सैलरी के प्रतिशत के रूप में की जाती है। महंगाई के असर को कम करने के लिए कर्मचारियों को महंगाई भत्ता दिया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App