ताज़ा खबर
 

तीन महीने के लिए किस्तें न चुकाने की ऑटोमेटिक राहत दे रहे ICICI, AXIS समेत ये बैंक, जानें- किन बैंकों से कैसे मिल सकती है सुविधा

3 month EMI moratorium: कई बैंक ऐसे भी हैं, जिन्होंने ऑटोमेटिक तौर पर ईएमआई को होल्ड कर दिया है और ऐसे ग्राहकों से ही किस्तों की वसूली की जा रही है, जो खुद आग्रह कर रहे हैं।

loan emiजानें, कौन से बैंक दे रहे लोन पर तीन महीने की ऑटोमेटिक छूट

3 month EMI moratorium: भारतीय रिजर्व बैंक के आदेश के बाद कई बैंक और नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियां ग्राहकों से मेसेज और ईमेल के जरिए यह पूछ रही हैं कि क्या वे तीन महीने के लिए अपने लोन की किस्तों को स्थगित करना चाहते हैं। हालांकि कई बैंक ऐसे भी हैं, जिन्होंने ऑटोमेटिक तौर पर ईएमआई को होल्ड कर दिया है और ऐसे ग्राहकों से ही किस्तों की वसूली की जा रही है, जो खुद आग्रह कर रहे हैं। आइए जानते हैं, कौन से बैंक दे रहे हैं लोन की ईएमआई को ऑटोमेटिक होल्ड करने की सुविधा…

भारतीय स्टेट बैंक: यदि आप देश के सबसे बड़े बैंक SBI से लिए गए लोन की किस्तों पर मोराटोरियम की सुविधा चाहते हैं तो आपको बैंक को ईमेल भेजकर इस सुविधा की मांग करनी होगी।

IDBI बैंक: निजी सेक्टर के इस बैंक के ग्राहकों को ऑटोमेटिक तौर पर यह सुविधा मिल रही है। यदि इस सुविधा को ग्राहक नहीं लेना चाहता तो उसे moratorium@idbi.co.in पर मेल करना होगा।

कैनरा बैंक: यदि ग्राहकों को यह सुविधा लेनी है तो उन्हें बैंक को मेसेज करना होगा। उन्हें मोबाइल नंबर 8422004008 पर ‘NO’ लिखकर भेजना होगा। इसके अलावा retailbankingwing@canarabank.com पर मेल भी किया जा सकता है।

IDFC फर्स्ट बैंक: ग्रामीण एवं कृषि लोन पर ऑटोमेटिक छूट दी जा रही है। इसके अलावा अन्य ग्राहकों को डिमांड पर ही यह ऑफर मिल रहा है। इस छूट के लिए 8007010908 पर मेसेज करना होगा। help@idfcfirstbank.com पर मेल भी किया जा सकता है।

ICICI बैंक लोन: टू-वीलर लोन, बिजनस लोन, जूलरी लोन और फार्म लोन पर ऑटोमेटिक सुविधा। अन्य कर्जों पर छूट मांगने पर ही सुविधा।

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया: ग्राहकों को ऑटोमेटिक राहत दी जा रही है। किस्तें चुकाते रहने के लिए बैंक से संपर्क करें।

यूको बैंक: ऑटोमेटिक रिलीफ मिल रही है।

बैंक ऑफ बड़ौदा: ऑटोमेटिक रिलीफ मिल रही है। किस्तें चुकाने के लिए ग्राहक बैंक से संपर्क कर सकते हैं।

फेडरल बैंक: 5 करोड़ रुपये तक के बिजनस लोन पर ऑटोमेटिक रिलीफ। इसके अलावा गोल्ड लोन, ऐग्रिकल्चर लोन और अन्य कर्जों पर भी ऑटोमेटिक राहत।

HDFC बैंक: ग्राहकों की मांग पर ही यह सुविधा दी जा रही है।

कोटक महिंद्रा, बजाज फिनजर्व, पीएनबी हाउसिल, इंडिया बुल्स: इन सभी संस्थाओं से लोन लेने वाले ग्राहकों को सिर्फ मांग पर ही लोन के मोराटोरियम की सुविधा दी जा रही है।

डोएचे बैंक, पंजाब एंड सिंध बैंक: दोनों ही बैंकों की ओर से ऑटोमेटिक रिलीफ की सुविधा दी जा रही है।

Axis बैंक: गोल्ड लोन, किसान क्रेडिट कार्ड लोन, फार्म लोन, माइक्रोफाइनेंस लोन, कमोडिटी लोन, ट्रैक्टर लोन, कमर्शल वीकल लोन, कंस्ट्रक्शन इक्विपमेंट लोन, बिजनस लोन पर ऑटोमेटिक राहत।

बैंक ऑफ इंडिया: सभी लोन ग्राहकों को ऑटोमेटिक राहत मिल रही है। किस्तों को चुकाते रहने के लिए बैंक से संपर्क किया जा सकता है।

SBI ने ग्राहकों को दिया झटका, घटाई ब्याज दर: इस बीच भारतीय स्टेट बैंक ने ग्राहकों को एक बड़ा झटका देते हुए सेविंग्स अकाउंट में जमा रकम पर मिलने वाले ब्याज की दर को 2.75 फीसदी सालाना कर दिया है। माना जा रहा है कि अब अन्य बैंक भी इसी तरह का कदम उठा सकते हैं। आमतौर पर ज्यादातर बैंकों की ओर से 3 से 4 फीसदी का ब्याज दिया जा रहा है। दरअसल लोन एवं अन्य चीजों पर कम ब्याज वसूली के चलते बैंक की सेहत पर असर पड़ रहा था, ऐसे में उसने जमा पर ब्याज को भी कम करने का फैसला लिया है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: जानें-कोरोना वायरस से जुड़ी हर खबर । जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? । इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेल ।  कोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरुआत, जान‍िए

Next Stories
1 निष्क्रिय पड़े हैं जन धन योजना के हजारों खाते, बैंक शाखाओं से बैरंग लौट रहे लोग, जानें- कैसे ऐक्टिव होगा खाता
2 केंद्रीय कर्मचारियों को लॉकडाउन के बीच बड़ी राहत, CGHS कार्ड की वैलिडिटी 30 अप्रैल तक बढ़ी
3 लोन की किस्तों में तीन महीने के लिए चाहते हैं छूट तो ऐसा बिलकुल न करें, पड़ सकता है भारी, बैंकों ने ग्राहकों को चेताया
कोरोना LIVE:
X