ताज़ा खबर
 

2,000 Rupee Note: देश के किसी ATM से अब नहीं निकलेंगे 2,000 रुपये के नोट, मशीनों में बदलाव शुरू, जानिए- चलेंगे या नहीं

2,000 Rupee Note: अब हर मशीन में 500, 200 और 100 रुपये के नोटों की ट्रे ही मौजूद होगी। सूत्रों के मुताबिक एटीएम में मौजूद 4 ट्रे में से तीन में 500 रुपये के नोट रखे जाएंगे और बाकी 1 में 100 या फिर 200 रुपये के नोट मिलेंगे।

देश के किसी भी एटीएम से नहीं निकलेंगे 2,000 रुपये के नोट

2,000 Rupee Note: यदि आप एटीएम से 2,000 रुपये का नोट निकालना चाहते हैं तो अब ऐसा नहीं कर सकेंगे। देश भर के करीब 2,40,000 एटीएम से 2,000 रुपये के नोट के रैक हटाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। अब हर मशीन में 500, 200 और 100 रुपये के नोटों की ट्रे ही मौजूद होगी। सूत्रों के मुताबिक एटीएम में मौजूद 4 ट्रे में से तीन में 500 रुपये के नोट रखे जाएंगे और बाकी 1 में 100 या फिर 200 रुपये के नोट मिलेंगे।

बिजनस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक अगले कुछ महीनों में इस प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाएगा। बता दें कि पिछले ही दिनों सरकारी क्षेत्र के इंडियन बैंक ने अपने सभी 3,000 एटीएम में 2,000 रुपये के नोट न डालने का आदेश जारी किया था। बैंक का तर्क था कि 2,000 रुपये के नोटों को एटीएम से निकालने के बाद लोग छोटे नोटों के लिए बैंक की शाखाओं में आते हैं, इससे भारी भीड़ लगती है।

हालांकि 2,000 रुपये के नोटों को एटीएम से हटाने से आम लोगों पर इसका कोई असर नहीं होगा। 2,000 रुपये के नोट पहले की तरह से ही मान्य होंगे। सूत्रों के मुताबिक सरकार धीरे-धीरे इन नोटों को प्रचलन से हटाने की तैयारी में है।

गौरतलब है कि इससे पहले बिजनस इनसाइडर ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि एक बड़े सरकारी बैंक ने अपनी सभी शाखाओं से 2,000 रुपये के नोटों को वापस मंगा लिया है। यही नहीं इन नोटों को आरबीआई की करेंसी चेस्ट्स में जमा किया जा रहा है। 8 नवंबर, 2016 को पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को बंद करने का ऐलान किया गया था। इसके बाद 500 रुपये के नए नोट जारी किए गए और 1,000 रुपये के नोटों को बंद ही कर दिया गया। उनकी बजाय 2,000 रुपये के नोट जारी हुए।

Next Stories
1 Ayushman Bharat Yojna: क्या आप आयुष्मान भारत योजना के दायरे में हैं? जानें- कैसे पता चलेगा स्टेटस
2 How to make good credit score: बैंक से सस्ते कर्ज के लिए जरूरी है अच्छा क्रेडिट स्कोर, जानिए- कैसे कर सकते हैं सुधार
3 GDP growth of Bihar: ग्रोथ के मामले में बिहार ने राष्ट्रीय औसत को छोड़ा पीछे, इन क्षेत्रों में बेहतर करने से 10% से अधिक की रफ्तार
ये पढ़ा क्या?
X