ताज़ा खबर
 

Budget 2017: प्रणब मुखर्जी ने कहा- कौशल विकास योजना से 20 लाख युवाओं को हुआ लाभ

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देश के युवाओं को सबसे बड़ी शक्ति बताते हुए आज कहा कि चार साल में देश में एक करोड़ युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए शुरू की गयी प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में अब तक 20 लाख से अधिक युवा लाभान्वित हो चुके हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: January 31, 2017 1:50 PM
pranab mukherjee, raghuram rajan, bank Reforms, pranab mukherjee Raghuram rajan, pranab mukherjee News, pranab mukherjee Latest news, rbi raghuram rajan, raghuram rajan Newsराष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी। (File Photo)

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देश के युवाओं को सबसे बड़ी शक्ति बताते हुए आज कहा कि चार साल में देश में एक करोड़ युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए शुरू की गयी प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में अब तक 20 लाख से अधिक युवा लाभान्वित हो चुके हैं। राष्ट्रपति ने आज संसद के बजट सत्र की शुरूआत में दोनों सदनों के संयुक्त अधिवेशन में अपने अभिभाषण में कहा, ‘‘आज हमारी 65 प्रतिशत जनसंख्या 35 वर्ष से कम आयु की है। हमारे युवा हमारी सबसे बड़ी शक्ति हैं तथा युवा उर्च्च्जा का प्रभावी उपयोग आवश्यक है। हमारी सरकार ने ‘हर हाथ को हुनर’ के उद्देश्य से युवकों को कुशल बनाने और उन्हें बेहतर रोजगार के योग्य बनाने के लिए अनेक कदम उठाये हैं।’

उन्होंने कहा, ‘‘पूर्व में 21 मंत्रालयों और 50 विभागों में फैले कौशल विकास कार्य को एक ही मंत्रालय के अधीन लाया गया है। अगले चार साल में एक करोड़ युवकों को प्रशिक्षित करने के लिए बारह हजार करोड़ के बजट परिव्यय के साथ प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना प्रारंभ की गयी है। इस योजना में 20 लाख से अधिक युवक पहले ही लाभान्वित हो चुके हैं।’ मुखर्जी ने कहा कि 10 हजार करोड़ रच्च्पये के बजट परिव्यय के साथ राष्ट्रीय प्रशिक्षुता प्रोत्साहत योजना आरंभ की गयी है। देशभर में फैले हुए 978 रोजगार कार्यालय राष्ट्रीय कॅरियर सेवा पोर्टल में एकीकृत किये गये हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मेरी सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों के लिए नये रास्ते खोले हैं और उनके लिए उच्च तकनीकी शिक्षा को अधिक सुगम बनाया है। पहली बार ब्रिज पाठ्यक्रमों के माध्यम से आईटीआई प्रशिक्षार्थियों को मैट्रिक और उच्च माध्यमिक स्तर पर अकादमिक बराबरी प्रदान की गयी है ताकि वे उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकें। युवकों को अंतरराष्ट्रीय स्तर का प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से 50 भारतीय अंतरराष्ट्रीय कौशल केंद्रों का राष्ट्रव्यापी नेटवर्क स्थापित किया जा रहा है। सात लाख विद्यार्थियों के लिए उद्यम में शिक्षण और प्रशिक्षण को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री युवा योजना आरंभ की गयी है।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 वीडियो: एक मिनट के अंदर दो बार खराब हुई संसद की माइक, सारे सांसदों ने उतारे हेडफोन, बोलते रहे प्रणब मुखर्जी
2 Budget 2017: पीएम मोदी ने शुरु की नई परंपरा, जानिए क्यों इस खास है इस बार का बजट सत्र
3 नारीशक्ति को देश की विकास यात्रा का अभिन्न अंग बना रही है मेरी सरकार: राष्ट्रपति
कोरोना टीकाकरण
X