ताज़ा खबर
 

ब्‍लॉग: अमिताभ बच्चन को ट्विटर पर फॉलोअर्स बढ़ाने के लिए हाथ जोड़ने की जरूरत क्‍यों पड़ी?

अमिताभ ट्विटर पर सबसे ज्‍यादा फॉलो की जाने वाली भारतीय हस्तियों में से एक हैं, इसके बावजूद फॉलोअर्स बढ़ाने का ऐसा 'जुनून' कई लोगों के गले नहीं उतरता। बिग बी के ट्विटर पर 3.43 करोड़ प्रशंसक हैं।

Author May 5, 2018 1:50 PM
मुंबई में अपने आवास के बाहर प्रशंसकों का अभिवादन स्‍वीकार करते ‘सदी के महानायक’ अमिताभ बच्‍चन। (Photo: PTI)

हिन्‍दी फिल्‍मों का ‘एंग्री यंग मैन’ ट्विटर फॉलोअर्स के संकट से जूझ रहा है। ‘कुली’ की शूटिंग के दौरान हादसे के बाद जिंदगी की जंग जीतने वाले अमिताभ बच्‍चन हर दूसरे दिन ट्विटर पर ‘नंबर बढ़ाने’ को आतुर नजर आते हैं। इसके लिए वह तस्‍वीरें, वीडियोज शेयर करते हैं और फैंस की तारीफों वाले ट्वीट्स को रिट्वीट करते हैं। सीधे ट्विटर से बातचीत का उनका तरीका भी अनोखा है। इसके लिए वह ट्विटर इंडिया को टैग नहीं करते, सिर्फ नाम लिखते हैं और सोचते हैं कि इससे उनकी बात वहां पहुंच जाएगी।

अमिताभ ट्विटर पर सबसे ज्‍यादा फॉलो की जाने वाली भारतीय हस्तियों में से एक हैं, इसके बावजूद फॉलोअर्स बढ़ाने का ऐसा ‘जुनून’ कई लोगों के गले नहीं उतरता। बिग बी के ट्विटर पर 3.43 करोड़ प्रशंसक हैं। इससे पहले भी अमिताभ अपने प्रशंसकों की संख्या कम करने पर ट्विटर छोड़ने की धमकी दे चुके हैं।

3 मई को, अमिताभ ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट के प्रबंधन पर सवाल उठाए कि वे फॉलोअर्स की संख्या को स्थिर कैसे बनाए रखते हैं। उन्‍होंने कहा, “डियर ट्विटर प्रबंधन, यह आश्चर्यजनक है कि आप फॉलोअर्स की संख्या को स्थिर कैसे बनाए हुए हैं जबकि यहां पर लोगों का जुड़ना जारी है। बहुत अच्छे। मेरा मतलब है कि हर गेंद छक्का लगा रही है लेकिन स्कोर बढ़ ही नहीं रहा है।” उन्होंने ‘वेल डन’ टिप्पणी पर हाथ जोड़ इमोजी को लगाया था।

5 मई को, अमिताभ ने अपनी एक तस्‍वीर के साथ कहा, ”अरे यार ट्विटर जी… यार अब तो हमारे नंबर्स बढ़ा दो.. कब से इतना कुछ डाल रहे हैं..कुछ और करना हो नंबर बढ़ाने के लिए तो बोलो।” इसके बाद उन्‍होंने हाथ जोड़ने वाले इमोजी लगाए। कहीं लोग इसे अमिताभ की बढ़ती उम्र को जिम्‍मेदार ठहराते हैं तो कुछ बेटे अभिषेक से जोड़कर तंज कसने लगते हैं। कुल मिलाकर, फॉलोअर्स बढ़ाने की कोशिश में अमिताभ ट्रोल्‍स को न्‍योता देने लगे हैं।

अमिताभ बच्‍चन ने हाल ही में दिए एक साक्षात्‍कार में कहा था कि उनकी अपनी कोई विरासत नहीं है और वह अपने पिता, हरिवंशराय बच्‍चन की विरासत को ही संजो कर रखना चाहते हैं। ‘एंग्री यंग मैन’ से शहंशाह के रूप में पिछले चार दशक से ज्यादा समय तक बॉलीवुड पर अपना दबदबा बनाए रखने वाले अभिनेता ने इस समय में जितने प्रशंसक बनाए, उसका एक बहुत बड़ा हिस्‍सा ट्विटर से अछूता है। ऐसे में अमिताभ का फॉलोअर्स के आधार पर अपनी लोकप्रियता नापना (या उनका मकसद जो भी हो) अजीब लगता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App