ताज़ा खबर
 

आपको बस खाना बनाना भर है… चावल, गेहूं, दूध, घी, प्रेशर कुकर अखिलेश के घोषणा पत्र में सब कुछ मुफ़्त

अखिलेश के रणनीतिकारों की मानें तो अगर राज्य की गरीब जनता अपने दो जून की रोटी की चिंता से मुक़्त हो जाए तो सोशल इंडेक्स पर राज्य ऊंची छलांग लगा सकता है।

Mulayam Singh Yadav, Akhilesh Yadav, Mulayam-Akhilesh Fight, Samajwadi Party Crisis, Yadav family, Dimple Yadav, Congress SP alliance, Uttar pradesh Elections, India, jansattaअखिलेश ने मुलायम के घर पर उनसे मुलाकात की यह तस्‍वीर पोस्‍ट की थी। (Source: Facebook)

अगर आपको किसी के दिल तक पहुंचना है तो सबसे पहले उसके पेट तक पहुंचिए। यानी की आपको कोई पसंद करे इसके लिए ज़रुरी है कि सबसे पहले आप उसके खाने-पीने का ख्याल रखें। हिन्दुस्तान की राजनीति में भी ये जुमला सटीक बैठता दिख रहा है। यूपी के सीएम अखिलेश यादव कम से कम ऐसा ही मानते हैं। लिहाजा इस बार वोट पाने के लिए उनका खासा जोर यूपी की ग़रीब जनता के किचन पर है। अखिलेश ने अपने घोषणापत्र में वादों का पिटारा तो खोला ही है, उन्होंने सूबे की गरीब जनता के लिए खाने पीने का पक्का इंतज़ाम कर दिया है। सीएम अखिलेश ने अपने घोषणा पत्र में अगली बार समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर गरीबों के लिए मुफ़्त चावल और गेहूं देने का वादा किया है। इसके अलावा उन्होंने शारीरिक रुप से कमज़ोर बच्चों को हर महीने एक लीटर देशी घी और एक किलो डब्बाबंद दूध देने का भी एलान किया है।

अखिलेश के रणनीतिकारों की मानें तो अगर राज्य की गरीब जनता अपने दो जून की रोटी की चिंता से मुक़्त हो जाए तो सोशल इंडेक्स पर राज्य ऊंची छलांग लगा सकता है। इसके अलावा सरकार की लोकप्रियता में भी खासी बढ़ोतरी होगी। अखिलेश ने ग़रीब महिलाओं के लिए जल्द खाना बनाने का भी इंतज़ाम कर दिया है। और उन्होंने हर गरीब महिला को मुफ़्त में प्रेशर कुकर देने का वादा दिया है। अखिलेश ने राज्य की महिलाओं को सरकारी रोडवेज बसों के किराये में भी 50 फीसदी की छूट दी है।

सपा अध्यक्ष ने कमजोर वजन वाली बच्चियों के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने का भी वादा किया है। अखिलेश ने एलान किया कि प्राथमिक स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को एक किलो घी और एक डब्बा दूध पावडर हर महीने दिया जाएगा। इसके साथ ही अखिलेश ने आगे कहा कि सपा सरकार अल्पसंख्यक कल्याण के लिए काम करेगी।

वरीय नागरिकों के लिए ओल्ड एज होम बनाएगी। महिलाओं को बस किराए में 50 फीसदी की छूट देने का भी एलान अखिलेश यादव ने किया है। उन्होंने राज्य के शेष 25 जनपदों को आपस में चार लेन की सड़क से जोड़ने की योजना पर तीव्रतर काम करने का भी एलान किया। अखिलेश ने अपने घोषणा पत्र में तहसील स्तर पर फैमिली बाजार बनाने की भी बात कही है।

Next Stories
1 ललित प्रसंगः कौन तुम
2 बाखबरः भीड़तंत्र की जय
3 वक्त की नब्ज़ः विकास के बुलबुले और हकीकत
दिशा रवि केस
X