ताज़ा खबर
 

बारादरी

बारादरी: गांधी की ओर लौटना हमारी मजबूरी

राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह ने कहा कि बाजार और करुणा एक साथ नहीं रह सकते और हमें जल्दी ही मजबूर होकर गांधी...

बारादरीः स्वास्थ्य क्षेत्र में क्रांति लाएगी आयुष्मान भारत योजना

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे का कहना है कि पिछले चार सालों में स्वास्थ्य सेवाएं निरंतर आगे बढ़ी हैं। केंद्र सरकार की स्वास्थ्य नीति...

बारादरीः अच्छे नेटवर्क के लिए बुनियादी ढांचा जरूरी

केंद्रीय संचार एवं रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा का कहना है कि अभी तक ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं आई है कि मोबाइल टावरों के विकिरण...

बारादरीः मनुष्यता की रक्षा के लिए है प्रेमचंद का साहित्य

प्रेमचंद, गांधी, पत्रकारिता और साहित्य आज बीच बहस में हैं। प्रेमचंद अपने साहित्य से एक ऐसा दौर दे गए, जिसका मूल्यांकन हर दौर में...

बारादरीः भाजपा का कोई विकल्प नहीं

इन दिनों केंद्र में विपक्षी दल सरकार के खिलाफ लामबंद हो रहे हैं। सरकार के कामकाज को लेकर कई तरह के आरोप लगा रहे...

बारादरीः चिंता है तो बचा लेंगे लोक संस्कृति को

हमारी फितरत है कि ध्वनि हमें आकर्षित करती है। जितने मन से उस जमाने में लोगों ने पाश्चात्य धुनों पर आधारित गीतों को सुना,...

बारादरीः पूर्ण राज्य का दर्जा चाहते ही नहीं केजरीवाल

भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी का आरोप है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री आरोप तो लगाते हैं, लेकिन मुद्दे सुलझाने के लिए बातचीत की मेज पर...

बारादरीः पहले नाम पर दिया अब काम पर वोट देंगे लोग

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक का मानना है कि पर्वतीय विकास के विमर्श को लोकलुभावन चश्मे से न देखा जाए। पहाड़ में...

बारादरी: सतत मूल्यांकन से पहले समस्या को समझें

इस देश में नीतियों की कमी नहीं है। समस्या है, तो उनके क्रियान्वयन की। अब तक जितनी भी बातें मैंने कीं, उनमें से एक...

बारादरीः मैं लिखती आंखिन की देखी

हिंदी को हर वक्त क्षेत्रीय भाषाओं की जरूरत पड़ती है। हिंदी समृद्ध होती है क्षेत्रीय भाषाओं से। हालांकि बड़े दुख की बात है कि...

बारादरी: सिनेमा को समाज के जिम्मे छोड़ देना चाहिए

फिल्म कलाकार मुकेश त्यागी का कहना है कि कला-माध्यमों पर किसी तरह का बंधन नहीं होना चाहिए। इंटरनेट के इस जमाने में फिल्म सेंसर...

बारादरी: ‘फिल्म उद्योग में सरोकार की कमी नहीं’

दृश्य माध्यम जितना सशक्त तरीके से आम लोगों पर अपना प्रभाव छोड़ता है वह किसी और माध्यम से नहीं हो सकता। सिनेमा के संवाद,...

बारादरी: लोकप्रिय हुआ तो लुगदी का ठप्पा लगा दिया

गल्पकार सुरेंद्र मोहन पाठक का कहना है कि टीवी और इंटरनेट की बढ़ती तकनीक ने उनके वे पाठक छीन लिए हैं, जो फुर्सत मिलते...

बारादरी: कांग्रेस के भगवा आतंकवाद के कुप्रचार का लाभ मिला पाकिस्तान को

विश्व हिंदू परिषद के कार्यवाहक अध्यक्ष आलोक कुमार का कहना है कि राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर बनाने का आंदोलन अपनी परिणति तक पहुंच...

बारादरीः जनतंत्र में हिंसा की कोई जगह नहीं

भाजपा सांसद और दलित चिंतक उदित राज का कहना है कि सामाजिक न्याय लाने की दिशा में भारत का बौद्धिक वर्ग नाकाम रहा है।...

बारादरी: विधाएं भाषा की नहीं, साहित्य की होती हैं

साहित्य, समाज और सत्ता के त्रिकोण में एक अहम भूमिका होती है अकादमियों की। देश की आजादी के बाद सत्ता के केंद्र ने साहित्य...

बारादरी: नाटक सिर्फ मनोरंजन की वस्तु नहीं

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के निदेशक और मकबूल रंगकर्मी वामन केंद्रे का मानना है कि सिनेमा और इंटरनेट से जुड़े मनोरंजन के माध्यमों ने आम...

बारादरी: सीलिंग का व्यावहारिक हल निकालना जरूरी

आम आदमी पार्टी के बीस विधायकों के अयोग्य करार दिए जाने का मामला हो या सीलिंग का, देश की राजधानी से जुड़े इन मुद्दों...