तवलीन सिंह

तवलीन सिंह के सभी पोस्ट 250 Articles

वक़्त की नब्ज़ः एक विवाद खत्म!

अयोध्या में राम मंदिर का विरोध करना बेवकूफी थी और इसकी वजह से सबसे ज्यादा नुकसान हुआ मुसलमानों का। विवाद सुलझाया जा सकता था,...

Narendra Modi, UN, India

वक्त की नब्ज: हकीकत से दूर

प्रधानमंत्री भाषण बहुत अच्छा देते हैं। अपने शब्दों से सपने दिखाते हैं सुनहरे-सुनहरे, लेकिन अभी तक ये सपने सिर्फ सपने ही रह गए हैं,...

Rajasthan, Congress government, Sachin pilot

वक्त की नब्ज: बुरे वक्त में सियासत

पायलट को राजस्थान सरकार को अस्थिर करना ही था, तो कोई ऐसा समय चुनते जब देश के सामने इतनी गंभीर समस्याएं न होतीं। अशोक...

PM Modi, Chinese App,

वक्त की नब्ज: नेतृत्व बनाम लोकप्रियता

मोदी ने अपना परिवर्तन और विकास लाने का वादा न राजनीतिक तौर पर पूरा किया है और न आर्थिक तौर पर। लेकिन उनकी तुलना...

वक्त की नब्ज: जो सवालों से डरते हैं

देशभक्ति बहुत बड़ी चीज है। देश से प्यार जिसको नहीं है, वह वास्तव में देशद्रोही कहलाने लायक है। लेकिन जब देशभक्ति को हथियार बना...

वक्त की नब्ज: सवाल न उठाने का नतीजा

सच तो यह है कि भारत की सुरक्षा को लेकर गंभीर गलतियां कई राजनेताओं ने की हैं। आज तक गलतियां हो रही हैं तो...

chines clash, chines border, indian troops

वक्त की नब्ज: दोहरे चरित्र की चाल

प्रधानमंत्री ने कहा है कि हम शांति चाहते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम अपनी सीमाओं को सुरक्षित रखने के लिए...

वक्त की नब्ज: जवाबदेही के बजाय

महामारी के आने से पहले ही अर्थव्यवस्था का इतना बुरा हाल क्यों हो गया था कि निवेशक भारत को छोड़ कर भागने लग गए...

वक्त की नब्ज: हाशिये पर गांव

समस्या यह है कि जब तक 'भारत' को हमारे शासक उतना ही महत्त्वपूर्ण नहीं समझने लगेंगे, जितना 'इंडिया' को समझते हैं तब तक इस...

Migrant Labour, News in Hindi

वक्त की नब्ज: तेरी रहबरी का सवाल है

एक-दूसरे पर कीचड़ उछालने के लिए समय है इनके पास, लेकिन बेहाल मजदूरों के लिए इतना भी समय नहीं कि उनको कम से कम...

वक्त की नब्ज: महामारी के बीच सरकार

उनके बारे में कभी कहा जाता था कि शासन चलाने में वे माहिर हैं, अब दिखने लगा है कि ऐसा नहीं है। शासन की...

वक्त की नब्ज: प्रवासी की पीड़ा

इसमें दो राय नहीं कि प्रवासी मजदूरों का आज जो हाल है उसके लिए जिम्मेवार है मोदी सरकार। इनके बारे में सोचा होता उनकी...

जनसत्ता वक्त की नब्ज: इस बंदी और बीमारी के सबक

कोरोना के साथ उसी तरह हमको जीना सीखना होगा जिस तरह टीबी के साथ जीना सीखा है। हर साल भारत में कोई पंद्रह लाख...

media

वक्त की नब्ज: हाशिए के लोग

हम पत्रकारों ने चूंकि इस देश के सबसे गरीब, सबसे लाचार लोगों की कहानियों को अनदेखा किया है, इसलिए हमारे शासकों ने भी अनदेखा...

वक्त की नब्ज: अब रास्ते खुलने चाहिए

महामारी को रोकने के लिए पहली बंदी शायद जरूरी थी और दूसरी भी, लेकिन इस पूर्णबंदी को और लंबा खींचना गलत इसलिए होगा, क्योंकि...

coronavirus

वक्त की नब्ज: बेबसी, बेकारी और बेअक्ली

कोरोना ने भारत की अर्थव्यवस्था का इतना बुरा हाल कर दिया है कि जाने-माने अर्थशास्त्री अनुमान लगा रहे हैं कि लाखों लोग बेरोजगार होने...

Corona Virus, India, Corona Virus in India, WHO

वक्त की नब्ज: बंदी और उसके बाद

जो नेतृत्व प्रधानमंत्री ने दिखाया है महामारी को रोकने के लिए, उससे भी ज्यादा नेतृत्व दिखाना होगा अर्थव्यवस्था को दुबारा जीवित करने के लिए।...

Tablighi Jammat, Corona Virus, News in Hindi

वक्त की नब्ज: चुनौतियों के इस वक्त में

आगे की रणनीति तय करना आसान नहीं है दुनिया के राजनेताओं के लिए, क्योंकि इतने बड़े संकट का सामना शायद ही किसी ने पहले...

ये पढ़ा क्या?
X