Author at Jansatta
ताज़ा खबर
 

सुधीश पचौरी के सभी पोस्ट

बाखबरः आगे आगे देखिए होता है क्या

दिल्ली देहरादून मार्ग पर तीन-चार रोज तक कांवड़ियों का ही राज रहा। जब यूपी के आला पुलिस अफसर कावड़ियों पर हेलीकॉप्टर से पुष्पवर्षा करते...

बाखबरः राष्ट्रवाद का रजिस्टर

अपने को हमेशा अव्वल कहने वाला, ‘एंजेडा सेट’ करने का दावा करने वाला एक चैनल लाइन देने लगा : ‘राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर जल्दी ही!’...

बाखबरः भीड़-हिंसा का समाजशास्त्र

दिल्ली में तीन बच्चियों की भूख से मौत हुई। विपक्षी नेताओं ने ‘गरीबी टूरिज्म’ किया। एंकर विचलित हुए। दिल्ली की बरसात में दिल्ली की...

बाखबरः झप्पी और झिकझिक

आजकल जरा-जरा-सी बात पर कुछ एंकर बहसों में ‘हिंदू बरक्स मुसलमान’ कराने लगते हैं। कहीं यह हमारी आखों का ही फरेब तो नहीं कि...

बाखबर: ऐसो को उदार जग मांही

एलजीबीटी समुदाय हमेशा की तरह सतरंगा दिखा। इस बार इस समुदाय के बंदे बहुत खुश दिखे। लेकिन उनसे भी अधिक खुश हमें कई अंग्रेजी...

बाखबरः लिंचिस्तान से मोक्षिस्तान तक

इसी सप्ताह एक चैनल ने इस देश को ‘लिंचिंस्तान’ का नाम दिया। एंकर आंकड़े दिखा कर बताती रही कि मई के बाद उन्नीस लोग...

बाखबरः शादी मुबारकां मेढक-मेढकी!

एक निंदक भाजपा प्रवक्ता जी से कहने लगा कि सर जी आप नव-दंपति मेढक जी और मेढकी जी के नाम तो बता दीजिए! सास...

बाखबरः धुंधली तस्वीरें

बहुत दिन बाद अरविंद केजरीवाल अपनी रौ में आए। दिल्ली की सरकार उपराज्यपाल के निवास पर धरने पर बैठ गई। कहे कि अफसरों को...

बाखबरः वाह रे आईना !

भागवत ने कुछ इस तरह अभय दिया : किसी भारतवासी के लिए कोई भारतवासी पराया नहीं है। भारत की धरती में जन्मा प्रत्येक व्यक्ति...

बाखबरः कौन हारा कौन जीता

प्रणब मुखर्जी का संघ के कार्यक्रम में जाने को हां कहना कई चैनलों में कांग्रेस की कुटाई का बहाना बनता रहा। कांग्रेस भी कुटती...

बाखबरः काहे की किट किट

चर्च बरक्स सरकार इतना जमा रहा कि तूतीकोरिन की तूती चैनलों को डेढ़ दिन बाद ही सुनाई दी! हमारे चैनल अपने ही शोर में...

बाखबरः लोकतंत्र लटकंत

कौन बनेगा मुख्यमंत्री? किसे बनाएं मुख्यमंत्री? हर एंकर का अपना मुख्यमंत्री है। कहानी राजभवन के सामने खुलती है। जनता विभाजित। परिणाम विभाजित। दल विभाजित।...

बाखबर: एंकरी अहंकरी

कई एंकरों के लिए राहुल एक समस्या हैं! कुछ एंकर तो राहुल का नाम सुनते ही पैर पटकने लगते हैं! आप एंकर हैं। ‘एंकरी’...

खोया हुआ युवा

आज की युवा पीढ़ी अजीब संक्रमण के दौर से गुजर रही है। उसमें कुछ करने, कुछ पाने की बेचैनी तो है, कहीं पहुंचने की...

बाखबरः जिन्ना का जिन्न

फिर क्या था? चैनल लग लिए और बताने लगे कि किस तरह जिन्ना ने देश का विभाजन कराया? किस तरह उनके हाथों पर दो...

बाखबर: बाबा रे बाबा

टीवी के जनतंत्र की बलिहारी कि इस ‘बलात्कारी बाबा’ के भी पक्षधर कम न रहे और एकाध तो इतना सांप्रदायिक दिमाग का रहा, जो...

बाखबर: जैसे इनके दिन फिरे

इस बीच नकद नारायण एटीएम से गायब हो गए। आठ राज्य कैश की किल्लत में रहे। चैनलों को नोटबंदी के दिन याद आए। फिर...

बाखबरः समरथ को नहिं दोष गुसार्इं

बाढ़ में कुत्ता, बिल्ली, सांप, नेवला, शेर सब एक साथ छत पर चढ़ जाते हैं। बाढ़ आ रही है।...