ताज़ा खबर
 

प्रभाकर मणि तिवारी के सभी पोस्ट

पश्चिम बंगाल पर मंडराया ISIS का साया

बांग्लादेश में हुए आतंकी हमले के बाद अब उससे सटे पश्चिम बंगाल पर इस्लामिक स्टेट (आइएस) के आतंक का साया गहराता जा रहा है।...

अपने ‘भगवान’ के संन्यास से सदमे में है फुटबॉल का मक्का

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता को फुटबाल का मक्का कहा जाता है। इस मक्का में फुटबाल प्रेमी अर्जेंटीना के लियोनेल मेस्सी को अपना भगवान...

बंगाल में पहली बार वोट डालेंगे देश के नए नागरिक

बीते साल भारत-बांग्लादेश सीमा समझौते के बाद ये लोग भारतीय नागरिक बने थे। उससे पहले वे भारत से घिरे बांग्लादेशी भूखंडों में रहते थे।...

पश्चिम बंगाल: इस चुनाव में सिंगुर को इंतजार है नई सुबह का

’सिंगुरवासियों को राजनैतिक दलों पर भरोसा नहीं, लिहाजा सियासी पंडित भी नहीं जानते कि चुनावी ऊंट किस करवट बैठेगा।

प. बंगाल में तीसरे चरण का चुनाव : ग्रामीण मतदाताओं के हाथ में है सत्ता की चाबी

राज्य के ग्रामीण इलाकों में तृणमूल कांग्रेस के वोटों का हिस्सा 43 फीसद है जबकि शहरी इलाकों में यह 54 फीसद है।

प. बंगाल में तीसरे चरण का चुनाव : बुद्धिजीवियों व माओवादियों ने छोड़ा ममता का साथ

पिछले विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस-कांग्रेस गठबंधन ने इलाके की 218 में से 191 सीटें जीत ली थीं।

पश्चिम बंगाल में बारिश थमी, राहत पर राजनीति तेज

पश्चिम बंगाल में मौसम के लगातार बदलते मिजाज के साथ ही सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी राजनीतिक दलों के बीच बाढ़ राहत पर राजनीति...

नगा समझौते से उम्मीदें कम, आशंकाएं ज्यादा: कहीं होम करते जल ना जाए हाथ

केंद्र सरकार और नगा उग्रावदी संगठन नेशनल सोशलिस्ट कौंसिल आफ नगालैंड (एनएससीएन) के इसाक-मुइवा गुट के बीच सोमवार को हुए समझौते को भले ऐतिहासिक...