ताज़ा खबर
 

मुकेश भारद्वाज के सभी पोस्ट

संस्कृति सरकारों की प्राथमिकता ही नहीं

रंगकर्मी एमके रैना का कहना है कि लोकतंत्र में संस्कृति सेफ्टी वॉल्व की तरह होती है, जो असंतोष का भाप निकालती रहती है। संस्कृति...

बेबाक बोल: बेदम दिल्ली

ज्यादातर केंद्रों पर मतदाताओं को मतदान के बाद टॉफी और गुलाब के फूल दिए गए। आयोग की तरफ से मतदान केंद्रों पर सेल्फी प्वाइंट...

जीएसटी एक कड़वी, पर जरूरी दवा

भाजपा के राज्यसभा सांसद और बुद्धिजीवी विनय सहस्त्रबुद्धे का कहना है कि इस समय देश में अस्तित्व की लड़ाई चल रही है। रोजगार के...

बेबाक बोल: पानी बीच मीन प्यासी

अब जनता की बात हो रही है तो स्तंभ का समापन भी चुटकुले से। एक गांव का आदमी मुंबई के समुद्र तट पर खड़ा...

कांग्रेस की जमीन आज भी, जिंदा करने की जरूरत

कांग्रेस नेता तारिक अनवर का दावा है कि इस बार के लोकसभा चुनावों में कांग्रेस का प्रदर्शन अच्छा रहेगा। उन्होंने कहा कि पिछली बार...

विकल्प की व्यथा

2014 में वाराणसी संसदीय सीट से प्रधानमंत्री पद के मजबूत दावेदार के खिलाफ आम आदमी पार्टी के अगुआ अरविंद केजरीवाल खड़े हुए थे। तब...

बेबाक बोल: दर्द-ए-दिल्ली

मतदातागण कृपया ध्यान दें, आप 2019 में हैं। लेकिन हम बात की शुरुआत गालिब की जुबानी कर हैं। याद करें 2014 का वह समय...

बेबाक बोल- पौरुषतंत्र (पाठ 16)

जया प्रदा और राबड़ी देवी को भी आज यह अपमान इसलिए झेलना पड़ रहा है कि राजनीति में उन दोनों का प्रवेश मर्दवादी समीकरण...

बारादरी: परीक्षा को बच्चे के स्तर पर लाया जाए

नवंबर 2017 में केंद्र सरकार ने उच्च शिक्षण संस्थानों के लिए प्रवेश परीक्षाएं आयोजित कराने के उद्देश्य से राष्ट्रीय परीक्षा एजंसी (एनटीए) की स्थापना...

बेबाक बोल: सत्ता का सिनेमा

मथुरा के गांवों में फसल काटतीं हेमा मालिनी हैं तो बेगूसराय में कन्हैया के पक्ष में खड़ीं स्वरा भास्कर। कलाकारों के एक समूह ने...

बेबाक बोलः बदलाव का वादा

पिछले पांच सालों में किसान आंदोलन के बाद बने सत्ता विरोधी मंच का फायदा हिंदी पट्टी के तीन राज्यों में कांग्रेस को मिला। किसी...

बारादरी: इस बार भी मिलेगी हमें शानदार कामयाबी

केंद्रीय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन का दावा है कि नरेंद्र मोदी की अगुआई में राजग को 2014 से ज्यादा अप्रत्याशित सफलता मिलेगी। उन्होंने कहा कि...

नाम नहीं काम

देश में आइपीएल और आम चुनाव की धूम है। क्रिकेट और राजनीति दोनों विज्ञापन केंद्रित हो गए हैं। आइपीएल हर साल अपने विज्ञापन बदलता...

हमने असम का पहिया दूसरी ओर घुमा दिया है

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के असम मामलों के प्रभारी हरीश रावत दावा करते हैं कि कांग्रेस ने असम का पहिया दूसरी ओर...

2019: डर के आगे…

2019 का चुनाव दो दलों या दो प्रतिनिधि चेहरों का नहीं बल्कि दो महागठबंधनों का चुनाव होगा। गठबंधन को लेकर सत्ता पक्ष जितना लचीला...

बारादरी: इस बार मुकाबला दो महागठबंधनों के बीच

वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय माकन का कहना है कि राजनीति में कोई स्थायी दोस्त और दुश्मन नहीं होता है। लोकसभा चुनाव में आम आदमी...

बेबाक बोल: बदलना हो तो…(पाठ 11)

जब देश की अर्थव्यवस्था बहुत चमकती सी नहीं है, बेरोजगारी के आंकड़े बेचैन कर रहे हैं, सीमाई खतरे बढ़े हुए हैं उस समय भी...

बेहतर विकल्प का चेहरा बनी कांग्रेस

छत्तीसगढ़ सरकार में स्वास्थ्य एवं पंचायत विकास मंत्री टीएस सिंह देव सूबे में कांग्रेस की जीत को अहम मानते हुए कहते हैं कि हम...