मृणाल वल्लरी

मृणाल वल्लरी के सभी पोस्ट 97 Articles

दिल्ली जिमखाना क्लब: व्यायामशाला से मधुशाला तक का सफर

अप्रैल के अंत में जब राष्ट्रीय राजधानी के विशिष्ट इलाके लुटियन जोन में स्थित डेढ़ सदी पुराने जिमखाना क्लब के प्रबंधन को लेकर केंद्र...

महिलाओं के लिए आसान नहीं घर से दफ्तर की डगर

सारी महिलाओं के पास घर में काम करने के लिए सुरक्षित और शांत माहौल नहीं होता है। ऊपर से घर पर रहें तो बुजुर्गों...

पूर्णबंदी ने खोले संवाद के नए रास्ते, कोरोना ने बताया अब क्या है सोचना

वाणी प्रकाशन समूह के प्रबंध निदेशक अरुण माहेश्वरी ने कहा कि कोविड-19 से हुई पूर्णबंदी ने हमें कई चिंतन के विषय दिए हैं जिस...

प्रधानमंत्री ने फोन पर ली खैरियत और पूछा पूर्णबंदी में तुम क्या कर रहे हो

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता राजकिशोर ने बताया कि बीते रविवार दोपहर दो बजे प्रधानमंत्री का फोन आया। उन्होंने मेरी कुशल जानने के बाद...

Covid-19: भवन निर्माण क्षेत्र को तिहरी चोट

भारत में इस बात की काफी उम्मीद है कि सरकार जल्द ही उद्योगों के लिए एक और राहत पैकेज की घोषणा करेगी। भारतीय रिजर्व...

coronavirus

अलगाव के दौर में साहित्य पर आभासी संवाद

कोरोना से अलगाव के दौर में अब लेखक और प्रकाशक आनलाइन गोष्ठी का रुख कर रहे हैं। अब तक किताब के मेलों में पाठकों...

पुस्तक समीक्षाः सत्य के साथ यथावत, सत्ता से बगावत

‘जनसत्ता’ में छपे रामबहादुर राय के लेखों का संग्रह अरुण भारद्वाज के संपादन में ‘नीति और राजनीति’ के रूप में आकर बताता है कि...

गिरमिटिया और गांधी का साझा रचने वाले गिरिराज का निधन, आज सुबह 10 बजे होगा अंतिम संस्कार

हिंदी साहित्य में गिरिजराज किशोर का लेखन अपना सार प्रस्तुत करते हुए कहता है कि साहित्य सुविधा की चीज नहीं है।

लेखक-प्रकाशक-पाठक के त्रिकोण पर बोले अरुण माहेश्वरी, लोक से जुड़ें लेखक

'युवा लेखक प्रकाशक से जुड़ता है तो प्रकाशक खुद को तरुण महसूस करता है। वहीं वरिष्ठ लेखक हमारे प्रकाशन की शोभा और सम्मान हैं।...

World Book Fair 2020: ‘कोरा कागज ज्यादा कीमती, पाठकों तक न पहुंचे तो छपी किताब रद्दी’

World Book Fair 2020: किताब और पाठकों के साथ इनके बीच की अहम कड़ी लेखक हैं जिनके साथ इनकी व्यस्तता भी चरम पर है।...

यारों के यारः तेरी महफिल में हम न होंगे

फैज, जफर और गालिब के लिए डीपीटी सबके पसंदीदा थे, यारों के यार थे। लेकिन डीपीटी जो थे वह उनके संसद में अंतिम भाषण...

भारत ने किया ऐतिहासिक जिम्मेदारी का निर्वाह

विरोध के तरीके पर सवाल उठाते हुए सिन्हा ने कहा कि यह वही पुरस्कार वापसी गिरोह है जो महज धारणा के आधार पर नरेंद्र...

shashi tharoor

नंदकिशोर आचार्य व शशि थरूर को साहित्य अकादेमी पुरस्कार

पुरस्कारों की अनुशंसा 23 भारतीय भाषाओं की निर्णायक समितियों द्वारा की गई। साहित्य अकादेमी के अध्यक्ष डॉ. चंद्रशेखर कंबार की अध्यक्षता में आयोजित अकादमी...

जनसत्ता विशेष: साहित्य की चेतनामयी साधना

साधना जैन का मानना है कि किसी भी काम के लिए वक्त निकालने से ही निकलता है। लिखने-पढ़ने के लिए वक्त निकालने और जगह...

लोकसभा चुनाव 2019: 68 फीसद युवाओं की नाराज आवाज है नोटा

Lok Sabha Elections 2019: ताजा सर्वे में युवाओं में इस बात को लेकर नाराजगी दिखी कि अभी भी वोट मांगने वालों में जवान हिंदुस्तान...

lok sabha, lok sabha election, lok sabha election 2019, lok sabha election 2019 schedule, lok sabha election date, lok sabha election 2019 date, लोकसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव 2019, chunav, lok sabha chunav, lok sabha chunav 2019 dates, lok sabha news, election 2019, election 2019 news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindi, Punjab news, Punjab voter, Tarn Taran voters, leader, promises, stamp paper

खूबसूरत शहर का सियासी मिजाज भी है अलहदा

शिवालिक की पहाड़ियों के बीच बसा चंडीगढ़ भारत के आधुनिक शहरों में होने के कारण नियोजित शहर भी कहा जाता है। इस सीट पर...

हिंदी साहित्य के वाद-संवाद का एक युग पूरा

सैकड़ों एकड़ जमीन और ईंट-गारे से जेएनयू जैसी संस्थाएं नहीं बनतीं। जब नामवर सिंह जैसे शिक्षक आते हैं तो आधुनिक हिंदी की पूरी पट्टी...

अलविदा: शुक्रवार सुबह कृष्णा सोबती ने ली आखिरी सांस, खत्म हुआ साहस और स्वाभिमान के लेखन का ‘जिंदगीनामा’

जब साठ के दशक में मित्रो मरजानी लिखा था तो वह देश और काल से एक स्त्री कलम की मुठभेड़ थी। पुरुषों के बनाए...