ताज़ा खबर
 

जनसत्ता के सभी पोस्ट

एम्स शिक्षण खंड में लगी भीषण आग, जांच रिपोर्ट और शोध पर्चे खाक

आग सूक्ष्म जैविकी विभाग की प्रयोगशाला में लगी थी जिसमें बड़े पैमाने पर मरीजों की तमाम बीमारियों की जांच के लिए लिए गए नमूने...

नन्ही दुनिया: गिरा टूट कर डाली से

सबसे ऊंची डाली पर एक पत्ता अभी लगा रह गया था। वह टूट कर गिरने से डर रहा था। जब हवा का झोंका आता...

बागवानी का मौसम

घर में कुछ साग-सब्जियां जरूर उगानी चाहिए। इसके लिए ज्यादा जगह की जरूरत भी नहीं होती। रसोई की जगह में, बालकनी, खुली छत पर...

सेहत: बरसात में खानपान

इस मौसम में ठेले, ढाबों की चाट-पकौड़ी, भेल देख कर मुंह में पानी भर जाता है। लेकिन ऐसा खाना आपको बीमार कर सकता है।...

दाना-पानी: खिचड़ी

खिचड़ी और घी का सेवन स्वास्थ्य के लिए सर्वोत्तम माना गया है। कई जगह मंदिरों में प्रसाद के रूप में खिचड़ी बांटी जाती है।...

शख्सियत: फिराक गोरखपुरी

फिराक को उर्दू साहित्य जगत में अपने आप को स्थापित करने में बहुत जद्दोजहद करनी पड़ी। इसलिए कि उनकी शायरी रिवायत से थोड़ी हट...

संस्कृति: कैसे तोड़ पाएंगे सांस्कृतिक रिश्ते?

अगर गुरुनानक वहां अब भी एक बड़े तबके के लिए ‘नानक शाह फकीर’ हैं या अब भी ननकाना साहब या करतारपुर में नित्य ‘वॉक’...

ललित प्रसंग: मौसम बदलने का इंतजार कब तक?

राजनीति में जिंदा रहना है, तो अपनी चमड़ी मोटी करके गैंडे जैसी बनानी होगी। जब चमड़ी का यों रूपांतरण हो जाए, तो नेता को...

कहानी: शरणागत

सड़कों का जाल बिछा, रेल लाइनों की लंबाई बढ़ी, अस्पताल और शिक्षण संस्थाओं की संख्या में निरंतर वृद्धि हुई, आर्थिक प्रगति हुई, उत्पादन बढ़ा,...

यहां भी है कुछ गुमनाम इतिहास

मोहम्मदी में पुवायां के राजा जगन्नाथ सिंह के घर अंग्रेज छिपे थे। मौलवी साहब, जिन्होंने लखनऊ की सत्ता संभालने से इनकार कर दिया था,...

गदर की निशानियां

इसके अलावा उन जगहों को संजोना जरूरी है जहां किसानों और मजदूरों ने अपने-अपने इलाके और गांवों में विद्रोह की ज्वाला जलाई थी। इस...

दंड नाकाफी है सोच बदलने में

क्यों आज तक समाज लड़कियों को ‘वस्तु’ ही मानता चला आ रहा है? क्यों नहीं बदल पा रही है समाज की सोच? क्यों नहीं...

समाज और महिलाएं: अजन्मी बेटियों की हकीकत

अनुमान है कि अब तक इस अपराध के लिए करीब ढाई-तीन सौ लोगों को जेल भेजा जा चुका है। इन सजाओं के बाद उम्मीद...

किताबें मिलीं: थाने के नगाड़े

रमाकांत एक घटना-स्थिति को अगली घटना स्थिति से स्वाभाविक ढंग से सटाते हैं। इससे कहानी की गति स्वतंत्र होकर आगे बढ़ती है। रचना छोटे-छोटे...

भाषायी हिंसा और समाज

हाल के वर्षों में आक्रामक और भयादोहन करने वाली भाषा का चलन बढ़ा है। खासकर महिलाओं और दलितों के विरुद्ध ऐसी भाषा का प्रयोग...

संयुक्त राष्ट्र की बैठक सरकार की कूटनीतिक विफलता : कांग्रेस

पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में जो हो रहा है उससे हम बहुत हैरान हैं।

भारत ने थार एक्सप्रेस रद्द की

थार एक्सप्रेस 18 फरवरी 2006 से जोधपुर के भगत की कोठी स्टेशन से कराची के बीच हर शुक्रवार की रात को चलती है।

केंद्र ने कहा, जज की तरक्की पर फैसला एक हफ्ते में

याची का आरोप है कि केंद्र ने अन्य उच्च न्यायालयों के लिए मुख्य न्यायाधीशों की नियुक्ति को मंजूरी दे दी है लेकिन न्यायमूर्ति कुरेशी...