Author at Jansatta
ताज़ा खबर
 

जनसत्ता के सभी पोस्ट

साल में एक ही बार नीट, वह भी कागज कलम से

एनटीए ने दिसंबर 2018 से मई 2019 तक होने वाली परीक्षाओं का कार्यक्रम जारी किया

पश्चिम बंगाल: साइबर अपराध का जाल और फैला

पश्चिम बंगाल में पिछले कुछ सालों में साइबर अपराध तेजी से बढ़ा है। सूबे में वर्ष 2013 में राज्य में साइबर अपराध के कुल...

चौपालः पारदर्शिता का तकाजा

नोटबंदी के बाद से देश में डिजिटल लेन-देन में काफी बढ़ोतरी हुई है और कुछ ही नागरिक अब इस पहल से अछूते रहे होंगे।...

चौपालः सुधार पर संशय

पचास-साठ के दशक में विद्युत उत्पादन और वितरण स्थानीय स्तर पर होता था जिसे मार्टीन बर्न जैसी कंपनियां संभालती थीं। तब बिजली सिर्फ बड़े...

दुनिया मेरे आगेः अपनेपन की जमीन

देश के अलग-अलग हिस्सों में कई वजहों से लोग अपनी जन्मभूमि छोड़ रहे हैं। कहीं गरीबी से तंग आकर, कहीं बढ़ती आपराधिक घटनाओं से...

राजनीतिः विकास के चक्र में गरीबी

पिछले कुछ समय में भूख से मौत की कई घटनाएं सामने आर्इं। ऐसी घटनाएं सामान्य तौर पर समाज के वंचित तबकों में ज्यादा होती...

संपादकीयः पाक का पैंतरा

नई सरकार के गठन पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को भारत के प्रधानमंत्री ने बधाई दी और दोनों देशों के बीच अच्छे रिश्तों...

संपादकीयः इंसाफ के रास्ते

मध्यप्रदेश के मंदसौर में एक बच्ची से बलात्कार के मामले में त्वरित अदालत यानी फास्ट ट्रैक कोर्ट ने जिस शिद्दत के साथ मुकदमे की...

अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में भी राजनीति करने से बाज नहीं आए भाजपा नेता

अटल जी की अस्थियों के विसर्जन कार्यक्रम में भाजपा की उत्तराखंड सरकार के दो मंत्रियों मदन कौशिक और सतपाल महाराज समर्थकों की गुटबाजी खुलकर...

स्मृतिशेष: अटलजी जैसा दूसरा कोई नहीं

अटलजी के बारे में काफी कुछ लिखा जा चुका है, मगर जो सबसे महत्त्वपूर्ण बात उन्हें औरों से अलग करती है वह यह है...

जेईई एडवांस्ड के आधार पर ही स्नातक में होंगे दाखिले

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आइआइटी) में संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) एडवांस्ड के आधार पर ही स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिले होंगे। आइआइटी काउंसिल की सोमवार को...

चौपालः केरल त्रासदी

केरल की इस बड़ी विपदा में राष्ट्रीय आपदा राहत बल (एनडीआरएफ) की टीमें जोर-शोर से बचाव कार्यों में लगी हुई हैं। प्रदेश के 80...

चौपालः अद्भुत शख्सियत

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भारतीय संसद में लोकप्रियता ऐसी थी कि कोई उनकी व्यक्तिगत तौर पर आलोचना नहीं करता था। इसके कारण...

चौपालः हिंदी की खातिर

यह विडंबना ही है कि हम अपने यहां तो हिंदी को पूर्ण रूप से एक सम्मानजनक स्थान नहीं दिला सके लेकिन विदेश में विश्व...

दुनिया मेरे आगेः सीखने का जश्न

सफलता के सही अर्थों में जाएं तो यह वह अनुभूति है जो किसी व्यक्ति के लक्ष्यों के परिणाम के तौर पर है और उस...

राजनीतिः आपदाएं और जल प्रबंधन

आज भी जल प्रबंध का परंपरागत ज्ञान जिन जातियों या समुदायों के पास सबसे अधिक है उनमें से अधिकांश गरीब ही हैं, जैसे- केवट,...

संपादकीयः संकट में मिसाल

केरल में बाढ़ से हुए व्यापक जानमाल के नुकसान की तस्वीरें दहला देने वाली हैं। इसकी वजह से अब तक तीन सौ से ज्यादा...

संपादकीयः आहट और अंदेशे

ब्रिटेन की राजधानी लंदन में भारत के स्वतंत्रता दिवस से तीन दिन पहले खालिस्तान समर्थक संगठन सिख फॉर जस्टिस ने जो रैली निकाली, वह...