ताज़ा खबर
 

अवधेश कुमार सिंह के सभी पोस्ट

भाषा पर प्रौद्योगिकी का दबाव

कहा जाता है कि जब कोई भाषा मरती है, तो उससे जुड़ी संस्कृति भी समाप्त हो जाती है। किसी भी भाषा के मरने की...

अवसर : शेक्सपियर की प्रासंगिकता

टाल्सटॉय ने विलियम शेक्सपियर के रचना संसार में नैतिक व्यवस्था के अभाव की बात की, तो टीएस एलियट ने वस्तुनिष्ठ सह-संबंधकों (‘आॅब्जेक्टिव कोरिलेटिव’) की...