ताज़ा खबर
 

कला और साहित्य

“The D Word” – डिप्रेशन से जूझ रहे लोगों की परेशानी कम कर सकती है यह किताब

डिप्रेशन पर शुभ्राता प्रकाश द्वारा लिखी गई किताब "द डी वर्ड" इस बीमारी और तनाव से जूझ रहे लोगों के लिए एक बढ़िया मोटिवेशन...

हैप्‍पी बर्थडे मोहम्‍मद कैफ:जब युवी-कैफ की दौड़ से इंग्‍लैंड हुआ था पस्‍त, लॉर्ड्स में चली थी दादागिरी

बाद में एक इंटरव्‍यू के दौरान बातचीत में गांगुली ने कहा कि नेटवेस्‍ट ट्राइएंगुलर सीरीज की जीत के जश्‍न के लिए शर्ट उतारना उनकी...

नहीं रहे मशहूर कर्नाटक संगीतकार एम. बालामुरलीकृष्ण

मशहूर कर्नाटक संगीतकार एम. बालामुरलीकृष्ण का आज 86 साल की उम्र में निधन हो गया है।

एक कलाकार की पेंटिंग्स में झलकती आज के समाज की दर्दनाक सच्चाई

एक कलाकार शांत होकर दुनिया में हो रहे बदलावों को देखता रहता है, उसे महसूस करता है और अपनी कूची से कैनवास पर उसे...

नृत्य में देवी रूपों का दर्शन

पिछले दिनों इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में रंगप्रवेशम का आयोजन किया गया। इस आयोजन में नृत्यांगना प्रतिभा प्रह्लाद की शिष्या कामाख्या मिश्र ने अपनी पहली...

‘नृत्य’ कॉलम में शशिप्रभा तिवारी का लेख : कृष्ण लीला की मोहक छवि

केरल के गुरु वायवुर मंदिर में सोपान संगीत शैली में अष्टपदी को गाया जाता है। उसी शैली में अष्टपदी को गायक ने गाया था।...

रंगमंच कॉलम में मंजरी श्रीवास्तव का लेख : स्त्री विमर्श के नए आयाम

विद्योत्तमा कहानी है एक ऐसी औरत के अद्भुत साहस व धैर्य की जो राजा विक्रमादित्य की पुत्री और कवि कालिदास की पत्नी होने के...

मंजरी सिन्हा का लेख : मल्हार राग में बारिश का मनोरम चित्रण

उस्ताद मुश्ताक अली खां के नाम पर उनके शिष्य पं. देबव्रत (देबू) चौधरी द्वारा स्थापित उमक सेंटर फॉर कल्चर ने मुश्ताक अली खां की...

संगीत : बैरन घर ना जा…

पंजाब के असली पारंपरिक संगीत का आनंद भाई बलवंत सिंह नामधारी ने दिया। अपने प्रभावी गायन की शुरुआत उन्होंने राग ‘जैजै बागेश्री’ में तलवंडी...

नृत्य : कथक में पारलौकिक संसार का चित्रण

कथक में परंपरागत बंदिशों, ठुमरी, दादरा, कविता के इतर नई रचनाओं और नई कविताओं को भी कुछ कलाकार नृत्य में पिरो रहे हैं। यह...

संगीत : भजन, कव्वाली और कथावाचन में भक्ति की सुगंध

कार्यक्रम में अनुराधा पौडवाल के लोकप्रिय भजनों से लेकर भुवनेश कोमकली के निर्गुण भजन और वारसी बंधुओं की कव्वाली, कुमुद दीवान के राधा-माधव, शुभा...

नृत्य : पंच तत्त्वों पर आधारित नृत्य संरचना

इस बार इस समारोह में नृत्य रचना ‘शून्य से शून्य तक’ पेश की गई। यह पंच महाभूत-आकाश, वायु, अग्नि, जल और पृथ्वी पर आधारित...

कथक नृत्य में ऋतुओं की छटा

कथक नृत्यांगना गौरी दिवाकर सालों से कथक नृत्य कर रही हैं। उन्होंने लखनऊ घराने के गुरु जयकिशन महाराज और जयपुर घराने की विदुषी अदिति...

दो नई किताबों से साथ अपना 82वां जन्मदिन मनाएंगे रस्किन बॉन्ड

रस्किन बॉन्ड को ‘आर ट्रीज स्टिल ग्रो इन देहरा’ के लिए 1992 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से नवाजा गया। उन्हें पद्मभूषण व पद्मश्री जैसे...

संगीत : सांवरिया मन भाया रे

समारोह का शुभारंभ विदुषी गिरिजा देवी पर उनके शिष्य देवप्रिय अधिकारी और समन्वय सरकार द्वारा बनाई गई एक जीवनवृत्त परक फिल्म ‘ए लाइफ इन...

संगीत : जहीरुद्दीन डागर की स्मृति में संगीत संध्या

संगीत संध्या की शुरुआत डा. आकाशदीप के सरोद वादन से हुई थी। आकाश ने अपने घराने के खास राग पहाड़ी झिंझोटी में आलाप-जोड़-झाले सहित...

संगीत : शांति शर्मा की पुण्यतिथि पर संगीत सभा

शांति शर्मा वर्तमान पीढ़ी में उस्ताद अमीर खां की विशिष्ट गायन की यशस्वी प्रतिनिधि थी।

संगीतः धमार संग तानपुरे की तान

ध्रुपद के दरभंगा घराने के वरिष्ठ गायक व गुरु पं. अभय नारायण मल्लिक के 79वें जन्मदिन पर उनके शिष्यों ने एक ध्रुपद उत्सव हैबिटाट...