ताज़ा खबर
 

कविता: कश्मीर पर भारत का ध्वज नहीं झुकेगा…

अनुच्छेद 370 पर मोदी सरकार के ऐतिहासिक फैसले के बीच पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की कश्मीर पर लिखी यह कविता बेहद प्रासंगिक हो उठती है।

कश्मीर पर अटल बिहारी वाजपेयी की कविता।

धमकी, जेहाद के नारों से, हथियारों से

कश्मीर कभी हथिया लोगे, यह मत समझो।

हमलों से, अत्याचारों से, संहारों से

भारत का शीश झुका लोगे, यह मत समझो।

जब तक गंगा की धार, सिंधु में ज्वार

अग्नि में जलन, सूर्य में तपन शेष।

स्वातंत्र्य समर की वेदी पर अर्पित होंगे

अगणित जीवन, यौवन अशेष।।

अमेरिका क्या संसार भले ही हो विरुद्ध

काश्मीर पर भारत का ध्वज नहीं झुकेगा,

एक नहीं, दो नहीं, करो बीसों समझौते

पर स्वतंत्र भारत का मस्तक नहीं झुकेगा.

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App