World cup

वर्ल्ड कप फाइनल में सचिन तेंदुलकर ने वीरेंद्र सहवाग को कुर्सी से उठने नहीं दिया था, नहीं देखा था MS Dhoni का विनिंग सिक्स

वर्ल्ड कप फाइनल से पहले नर्वस होने के सवाल पर सचिन ने कहा था, ‘‘नर्वस तो मैं हम मैच से पहले होता हूं। मुझे वो अनुभव अच्छा लगता था। इससे यह होता था कि मेरा शरीर उस मैच के लिए तैयार होता था। वर्ल्ड कप फाइनल में यह अलग था।’’

टी20 वर्ल्ड कप के लिए तैयार भारत? 2020 में एक भी मैच नहीं हारी विराट कोहली की टीम

भारत 2020 में एक भी मैच नहीं हारा है। विराट कोहली की टीम ने इस साल 9 में से 8 मैच अपने नाम किए हैं। एक मुकाबले में नतीजा नहीं निकला था। 2020 में भारत सबसे पहले श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज में खेला था।

India vs Pakistan: इंजमाम उल हक ने चुनी सचिन तेंदुलकर की बेस्ट पारी, बोले- ऐसा खेलते उन्हें कभी नहीं देखा

सचिन ने पाकिस्तान के खिलाफ 7 शतक लगाए हैं। वसीम अकरम से लेकर शोएब अख्तर की गेंदों को जमकर धोया है। टेस्ट में भी कई यादगार पारियां खेलीं हैं, लेकिन पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज कप्तान इंजमाम ने उनकी 2003 वर्ल्ड कप में खेली गई पारी को बेस्ट बताया है।

‘अंबाती रायुडू को वर्ल्ड कप टीम में नहीं रखना हमारी गलती थी, सूर्यकुमार के लिए किसे करें बाहर’, बोले टीम इंडिया के चयनकर्ता

भारतीय टीम के मौजूदा चयनकर्ता देवांग गांधी ने कहा है कि रायुडू को टीम में शामिल नहीं करना हमारी गलती थी। इसका अहसास हमें बाद में हुआ था। देवांग ने यह भी बताया कि सूर्यकुमार यादव को टीम में क्यों नहीं चुना जा रहा है।

दुनिया की बेस्ट महिला फुटबॉलर मेगन रेपिनो ने गर्लफ्रेंड से की सगाई, 4 साल से दोनों एक-दूसरे को कर रही थीं डेट

रेपिनो ने पिछले साल हुए महिला वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा 6 गोल दागे थे। उन्हें गोल्डन बूट दिया गया था। 40 साल की सू बर्ड अमेरिकी महिला बास्केटबॉल टीम के साथ चार ओलंपिक गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं। वे चार बार वुमन NBA (WNBA) टाइटल भी अपने नाम कर चुकी हैं।

‘धोनी द्वारा बाहर निकाले जाने पर हुआ था दुख, 2011 वर्ल्ड कप जीतने के बावजूद 2015 में नहीं मिला मौका’, जब गौतम गंभीर का छलका था दर्द

गौतम गंभीर ने भारत के लिए 58 टेस्ट में 51.5 की औसत से 4154 रन बनाए। 147 वनडे में 39.7 की औसत से 5238 रन बनाए और 37 टी20 में 27.4 की औसत से 932 रन बनाए। इन बेहतरीन आंकड़ों के बावजूद गंभीर लंबे समय तक देश के लिए नहीं खेल पाए।

वीरेंद्र सहवाग को बीरबल बुलाते थे सचिन तेंदुलकर, वीरू भी 4 साल तक मास्टर ब्लास्टर को एक खास चीज के लिए चिढ़ाते रहे

सचिन तेंदुलकर के नाम अब भी क्रिकेट के बहुत से रिकॉर्ड हैं। वहीं, जब भी कभी या कहीं ताबड़तोड़ पारी की बात चलती है तो टेस्ट मैच में दो तिहरे शतक लगाने वाले इकलौते भारतीय बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का नाम भी लिया जाता है।

‘सौरव गांगुली की वजह से आईसीसी ट्रॉफी जीत सके महेंद्र सिंह धोनी’, वर्ल्ड कप फाइनल के हीरो का दावा

टेस्ट कप्तान के तौर पर टीम इंडिया को नंबर एक पोजिशन पर ले जाने का श्रेय भी धोनी को जाता है। गंभीर का कहना है कि यह तेज गेंदबाज जहीर खान की बदौलत हुआ।

पाकिस्तानी कप्तान ने बताया क्यों वर्ल्ड कप में भारत से नहीं जीती उनकी टीम, चैंपियन टीम का सदस्य नहीं होने का है अफसोस

भारतीय टीम वर्ल्ड कप में अब तक पाकिस्तान के खिलाफ 7 बार खेली है और उसे हर बार हराया है। पिछली बार सरफराज अहमद की कप्तानी में 2019 वर्ल्ड कप में भी पाकिस्तानी टीम हारी थी।

महेंद्र सिंह धोनी Love Story: साक्षी को पसंद नहीं था क्रिकेट, लेकिन माही के करियर के तीन मोमेंट्स को रखती हैं याद

धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया 2011 में वर्ल्ड कप जीती थी। इसके बाद उनके नेतृत्व में इंग्लैंड के मैदान पर चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जाया जमाया था। उन्होंने 4 जुलाई 2010 को साक्षी से देहरादून में शादी की थी।

‘पाकिस्तानी फैन ने 2019 वर्ल्ड कप मैच से पहले भारतीय खिलाड़ियों को दी थी गालियां’, विजय शंकर ने किया खुलासा

विजय शंकर ने पहली ही गेंद पर पाकिस्तान के ओपनर इमाम उल हक को एलबीडब्ल्यू कर दिया था। उस मुकाबले में रोहित शर्मा ने 113 गेंद पर 140 रन बनाए थे। भारत ने पाकिस्तान को 89 रन से हराया था।

BCCI का PCB पर पलटवार; कहा- पहले आतंकवाद खत्म करने की गारंटी दे, तब मिलेगा वीजा

पीसीबी ने आईसीसी से कहा था कि वह बीसीसीआई से लिखित आश्वासन ले कि उसकी टीम को भारत में 2021 टी20 विश्व कप और 2023 में होने वाले 50 ओवर के विश्व कप में खेलने के लिए वीजा हासिल करने में किसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

1983 वर्ल्ड कप को लेकर युवराज सिंह और रवि शास्त्री में भिड़ंत, भारतीय कोच ने लिया पुराना बदला

2011 वर्ल्ड कप जीत के 9 साल पूरे होने पर रवि शास्त्री ने ट्वीट किया था। उसमें उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह का नाम नहीं लिखा था। तब युवराज ने उनसे कहा था कि आप मेरा और धोनी का नाम टैग कर सकते थे।

बिल पेमेंट के समय गायब हो जाते थे सुनील गावस्कर, रवि शास्त्री खा जाते थे दो आदमियों का खाना

1983 वर्ल्ड कप जीत के आज यानी 25 जून 2020 को 37 साल हो गए। टीम इंडिया कपिल देव की कप्तानी में पहली बार चैंपियन बनी थी। उसके बाद 2011 में टीम को सफलता मिली थी।

कपिल देव को ‘पसंद’ थीं द्विअर्थी संवाद वाली फिल्में, टीम इंडिया के बल्लेबाज को था ‘क्रांति’ का नशा

वर्ल्ड कप में जीत का श्रेय कपिल देव को दिया जाता है। उन्होंने सेमीफाइनल में जिम्बाब्वे के खिलाफ 175 रन की पारी खेली थी। फाइनल में महान बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स का कैच लिया था। पूरे टूर्नामेंट में बेहतरीन कप्तानी भी की थी।

बलविंदर संधू की आउटस्विंगर ने रखी थी भारत के वर्ल्ड चैंपियन बनने की नींव, ‘हनीमून’ पर गई टीम इंडिया ने रचा था इतिहास

वेस्टइंडीज की टीम की ओपनिंग जोड़ी उस वक्त दुनिया में सबसे बेहतरीन थी। गॉर्डन ग्रीनिज के साथ डेसमंड हेंस बल्लेबाजी के लिए उतरे। ऐसा लग रहा था कि दोनों टीम को 10 विकेट से जीत दिलाएंगे। उनके बाद बल्लेबाजी के लिए आने वाले रिचर्ड्स, कप्तान क्लाइव लॉयड और लैरी गोमेज का नंबर नहीं आएगा।

MS DHONI को उदास देख सुरेश रैना ने खाई जीत दिलाने की कसम, सचिन तेंदुलकर से मिला था ‘आशीर्वाद’; देखें VIDEO

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को वर्ल्ड कप 2011 के क्वार्टरफाइनल में हराया था। इस मैच में सुरेश रैना ने 28 गेंद पर नाबाद 36 रन बनाए थे। रैना जब बल्लेबाजी के लिए गए थे तब टीम इंडिया को जीत के लिए 75 गेंद पर 74 रन बनाने थे। उन्होंने युवराज के साथ नाबाद साझेदारी की थी।

‘जावेद मियांदाद ने सिखाया था विरोधी गेंदबाजों से लड़ना, वेंकटेश प्रसाद संग विवाद पर पाकिस्तानी ओपनर ने मानी ‘गलती’

भारतीय टीम वर्ल्ड कप इतिहास में अब तक पाकिस्तान के खिलाफ नहीं हारी। 1996 वर्ल्ड कप में उसने पाकिस्तान को 39 रन से हरा दिया था।

यह पढ़ा क्या?
X