unemployment in india

गरीब कल्याण रोजगार अभियान में बढ़ सकती है जिलों की संख्या, योजना में शामिल न करने पर पश्चिम बंगाल ने किया था विरोध

Garib Kalyan Rojgar Abhiyan implementation: कुछ सप्ताह तक स्कीम चलने के बाद आकलन किया जाएगा और अन्य जिलों को भी जोड़ा जा सकता है। 20 जून को गरीब कल्याण रोजगार अभियान की लॉन्चिंग की गई है।

गरीब कल्याण रोजगार अभियान से दूर रखने पर पश्चिम बंगाल सरकार ने उठाए सवाल, कहा- जिलों की लिस्ट भी नहीं मांगी गई

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan: पश्चिम बंगाल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह आश्चर्यजनक है कि केंद्र की ओर से उन जिलों की लिस्ट भी नहीं मांगी गई, जहां स्कीम के तहत काम कराए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि हम नहीं जानते कि आखिर क्यों केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल को लिस्ट में शामिल नहीं किया है।

देश में बेरोजगारी की दर में आई बड़ी गिरावट, सिर्फ 11.6 पर्सेंट लोगों के पास ही अब नहीं कोई रोजगार: CMIE

जून के दूसरे सप्ताह में बेरोजगारी की दर 11.6 पर्सेंट ही रह गई है, जबकि पहले वीक में यह 17.5 फीसदी थी। यही नहीं अप्रैल और मई में बेरोजगारी की दर लगातार 23.5 पर्सेंट बनी हुई थी।

अनलॉक का असर: शहरों में तेजी से कम हो रही बेरोजगारी की दर, गांवों में अब भी खराब हैं हालात

अब शहरों में बेरोजगारी की दर राष्ट्रीय औसत और गांवों में बेरोजगारी की दर के मुकाबले कम हो गई है। फिलहाल बेरोजगारी का राष्ट्रीय औसत 17.51% है, जबकि गांवों में यह दर 17.71% है।

रिपोर्ट में दावा- देश में मई माह में बढ़ी 2 करोड़ से ज्यादा नौकरियां, फिर भी बेरोजगारी दर बहुत ज्यादा

रिपोर्ट में बताया गया है कि मई में जो 2.1 करोड़ जॉब बढ़ी हैं, उनमें से 1.44 करोड़ छोटे दुकानदार और दिहाड़ी मजदूर हैं। अब जब सरकार लॉकडाउन में छूट दे रही है तो स्वरोजगार करने वाले लोग वापस काम पर लौट आए हैं।

नौकरी गंवाने वालों में युवाओं की संख्या ज्यादा, 20 से 30 साल तक की आयु के 2.7 करोड़ लोग हुए बेरोजगार: सर्वे

lockdown impact on indian economy: नौकरी खोने वाले लोगों की बात करें तो 52 फीसदी लोग ऐसे ही हैं, जिनकी आयु 40 साल से कम की है। इसके उलट कुल रोजगार के अवसरों में 56 फीसदी की हिस्सेदारी रखने वाले 40 साल से अधिक आयु वाले लोगों में से 48 पर्सेंट ऐसे हैं, जिन्हें नौकरी के संकट का सामना करना पड़ा है।

देश में बेरोजगारी की दर में करीब 200 फीसदी का इजाफा, हर चौथे भारतीय पर काम नहीं, कई राज्यों में 50 फीसदी के करीब लोग बेरोजगार

Unemployment rate in india: पंजाब में बेरोजगारी की दर महज 2.9 फीसदी ही है, जबकि छत्तीसगढ़ में 3.4 पर्सेंट है। तेलंगाना में 6.2 फीसदी है। दक्षिण भारतीय राज्यों की बात करें तो तमिलनाडु में हालात बेहद विपरीत देखने को मिले हैं।

दुनिया में 1.6 अरब श्रमिकों की कोरोना वायरस के संकट से छिन जाएगी आजीविका, खाने तक के लाले: अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन

संयुक्त राष्ट्र की संस्था ने कहा कि लॉकडाउन लंबा खिंचने के चलते ऑफिसों के बंद होने और प्लांट्स में काम ठप होने के चलते यह संकट लगातार गहरा रहा है। वर्किंग आवर्स में लगातार कमी देखनो को मिल रही है।

कोरोना वायरस की ऐसी पड़ी मार, देश के हर चौथे शख्स के सामने बेरोजगारी का संकट, 23.4 पर्सेंट लोगों से छिन सकती है जॉब

भारत में इतने बड़े पैमाने पर बेरोजगारी की बड़ी यह भी है कि संगठित क्षेत्र की नौकरियों का अभाव है। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में इकनॉमिक्स के एसोसिएट प्रोफेसर हिमांशु ने भी कहा कि कुछ ऐसे ही आंकड़ों का अनुमान लगाया जा सकता है।

Employment schemes: केंद्र सरकार की योजनाओं से घट रहा रोजगार मिलने का आंकड़ा, बीते साल के मुकाबले रह गया आधा

Unemployment in India: केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार की ओर से पेश किए गए डेटा के मुताबिक 2018-19 में सरकारी स्कीमों से 5.9 लाख रोजगार के अवसर पैदा हुए, जबकि मौजूदा फाइनेंशियल ईयर में यह आंकड़ा 31 दिसंबर तक 2.6 लाख तक ही पहुंचा था।